Pune Crime | पुणे पुलिस ने बालू व्यवसायी संतोष जगताप हत्या प्रकरण में दो को किया गिरफ्तार

पुणे (Pune News) : पुणे (Pune Crime) जिला के लोणी कालभोर (Loni Kalbhor) में दो दिन पहले दिन दहाड़े दो गैंग में गोलीबारी (Firing) की घटना हुई थी। इस घटना में संतोष जगताप (Santosh Jagtap) की हत्या (Murder) हुई थी। इस मामले में पुणे पुलिस के क्राइम ब्रांच (Pune Crime Branch Police) ने दो को गिरफ्तार किया है। आर्थिक कारणों की वजह से हत्या होने की प्राथमिक जानकारी पुलिस को मिली है। लेकिन इस हत्या में और कुछ लोगों के शामिल होने की संभावना पुलिस (Pune Crime) ने जताई है। साथ इस हत्या का मास्टरमाइंड कौन है, इसकी विस्तृत जांच की जाने की जानकारी पुलिस आयुक्त अमिताभ गुप्ता (Police Commissioner Amitabh Gupta) ने दी है।

 

पवन गोरख मिसाल (Pawan Gorakh example) (उम्र-29), महादेव बालासाहेब आदलिंगे (Mahadev Balasaheb Adalinge) (उम्र-26, दोनों निवासी  दत्तवाडी, उरुली कांचन) को गिरफ्तार (Arrest) किया गया है। स्वागत खैरे व उसके साथी  ने   संतोष जगताप पर गोली चलाकर उसकी हत्या की गई। वहीं खैरे जगताप के बॉडीगार्ड द्वारा किए गए फायरिंग में मारा गया। दोनो के खिलाफ लोणीकालभोर पुलिस थाने (Lonikalbhor Police Station) में एफआईआर (FIR) दर्ज किया गया है। इसके बाद क्राइम ब्रांच की टीम (Crime Branch Team) ने दोनों को इंदापुर से गिरफ्तार किया है।

 

खैरे एक कुख्यात अपराधी था। उसके खिलाफ हत्या, हत्या की कोशिश के साथ कई गंभीर मामले दर्ज हैं। वहीं गिरफ्तार किए गए मिसाल के खिलाफ अवैध रूप से हथियार रखने व अन्य गंभीर आरोप दर्ज हैं। गिरफ्तार (Arrest) किए गए आदलिंगे भी एक कुख्यात अपराधी है। पुलिस आरोपी से विस्तृत जांच कर रही है, उनसे काफी जानकारी मिलेगी, ऐसा गुप्ता ने कहा।

 

संतोष जगताप हत्या का आरोपी

 

संतोष जगताप (Santosh Jagtap) की खुद की गैंग थी। 2011 में बालू निकासी की वजह से दौंड में सगे चचेरे भाई की हत्या हुई थी। इस गुनाह में संतोष जगताप सहित 35 लोग शामिल थे। साथ ही 2016 में हुई हत्या की घटना में भी संतोष शामिल था। इसलिए इस हत्या (Murder) की घटना के अलग-अलग कारण हैं, ऐसा अतिरिक्त पुलिस आयुक्त रानमाथ पोकले (Additional Commissioner of Police Ranmath Pokle) ने कहा है। क्राइम ब्रांच के पुलिस उपायुक्त श्रीनिवास घाडगे (Crime Branch Deputy Commissioner of Police Srinivas Ghadge), युनिट-6 के पुलिस निरीक्षक गणेश माने (Unit-6 Police Inspector Ganesh Mane) और अन्य इस मौके पर उपस्थित थे।

 

Pune Crime | पुणे में अवैध संबंध से जन्मी 3 महीने की बच्ची के अपहरण का नाटक;  13 साल के बेटे की मदद से मां ने किया ‘यह’ कृत्य

You might also like

Comments are closed.