Pune Crime News| लाइसेंस देने के बहाने पुणे के व्यापारी को ठगा; 40 लाख रुपये का लगाया चूना

पुणे : ऑनलाइन टीम- आयकर विभाग में सहायक आयुक्त के पद पर कार्यरत होने का दिखावा कर एक दंपति ने पुणे के एक व्यापारी से 40 लाख रुपये ठगे हैं। आरोपी दंपत्ति ने व्यापारी को शराब बेचने का लाइसेंस दिलाने का झांसा देकर आर्थिक धोखाधड़ी की है। व्यापारी परमेश्वर कुचेकर ने पुणे के शिवाजीनगर थाने में मामला दर्ज कराया है। आरोपी दंपति फरार है और पुलिस उनकी तलाश कर रही है।

आरोपी दंपति के नाम शुभम गौर और रंजना गौर हैं। आरोपी और वादी व्यापारी एक दूसरे को पिछले कुछ सालों से जानते थे। वादी के एक करीबी ने आरोपी शुभम गौर को सहायक आयकर आयुक्त के रूप में पहचान कराई थी। उसके बाद आरोपी गौर और वादी कुचेकर भी अच्छे दोस्त बन गए। आरोपी ने वादी से अपनी पत्नी का परिचय भी कराया था।

पुणे मिरर द्वारा दी गई खबर के अनुसार वादी परमेश्वर कुचेकर जमीन बिक्री का काम करता है। उसका कार खरीदने और बेचने का कारोबार भी है।  आरोपी ने कहा कि वह पुणे में एक नया फ्लैट खरीदना चाहता है और वादी से 15 लाख रुपये की मांग की। उसने पुणे शहर में शराब बेचने का लाइसेंस दिलाने का भी वादा किया। वादी ने अपने कुछ दोस्तों से पैसे उधार लेकर आरोपी की मदद की। इसके बाद आरोपी ने वादी से अलग अलग तरीके का प्रलोभन देकर 40.5 लाख रुपये लिया।

हाल ही में फैले कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण वादी अपने गांव जाकर रहने लगा, लेकिन जब वह पुणे लौटा तो आरोपी से उसका संपर्क नहीं हो पाया। उसके बाद उसे पता चला कि वह पुणे से फरार हो गया। उसके बाद शिवाजी नगर पुलिस थाने में जाकर आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कराया। संबंधित आरोपी ने इस तरह से कई लोगों को ठगा है। पुलिस आरोपी दंपति को ढूंढ रही है।

You might also like

Comments are closed.