Pune Crime | शातिर बदमाश को पकड़ने गई पुलिस टीम पर भीड़ का हमला

पुलिस ने आत्मरक्षा में किया हवाई फायर; शातिर को भी दबोचा

पुणे/ पिंपरी : Pune Crime | हत्या के आरोपियों को पकड़ने गई पिंपरी चिंचवड़ (Pimpri Chinchwad) की पुलिस टीम (police team) पर फायरिंग की घटना अभी ताजा ही है कि अब पुणे (Pune) में शातिर बदमाश को पकड़ने के लिए गई पुलिस टीम पर हिंसक भीड़ द्वारा हमला किये जाने की घटना सामने आयी है। भीड़ को ज्यादा हिंसक होता देख पुलिस टीम ने आत्मरक्षा में हवाई फायर किया तब भीड़ तितरबितर हो (Pune Crime) गई। इसके बाद पुलिस (Police) ने शातिर को धरदबोचा।

 

पुणे के येरवडा इलाके में यह घटना घटी है, इस बारे में येरवडा थाने (Yerwada Police Station) में मामला दर्ज किया गया है। इस घटना में दो पुलिसवालों के चोटिल होने की खबर है। पुलिस ने बताया कि, येरवडा परिसर की कोते बस्ती में म्हाडा की सर्वधर्मसमभाव नामक बसाहट है। यहां शक्ति सिंह नामक पुलिस रिकॉर्ड पर दर्ज एक शातिर बदमाश ने अपने साथियों के साथ मिलकर आतंक मचा रखा था। इससे स्थानीय लोग परेशान हो चुके थे।

 

इस बारे में स्थानीय लोगों से शिकायत मिलने पर येरवडा पुलिस (Yerwada Police) की एक टीम रात साढ़े नौ बजे के करीब शक्ति सिंह को पकड़ने के लिए वहां गई। पुलिस को देखकर उसने अपने समाज के लोगों को इकट्ठा किया और पुलिस के खिलाफ भड़काया। इसके बाद डेढ़ दो सौ लोगों की भीड़ ने पुलिस पर हमला कर दिया। इसमें दो पुलिसवाले चोटिल हो गए। भीड़ को हिंसक होता देखकर पुलिस ने आत्मरक्षा में हवाई फायर किया। इससे घबराकर भीड़ तितरबितर हो गई। इसके पश्चात पुलिस टीम ने शक्ति को हिरासत में लिया और उसे येरवडा थाने ले आयी।

 

तडीपार बदमाश ने पुलिस से की धक्कामुक्की

 

यहां पिंपरी चिंचवड़ के भोसरी स्थित शांतिनगर में भी दो दिन पहले एक तडीपार आरोपी ने उसे पकड़ने के लिए पहुंची पुलिस टीम के साथ धक्कामुक्की करते हुए देख लेने की धमकी दिए जाने का मामला सामने आया है। पुलिस ने रविंद्र बन्सीलाल भालेराव (Ravindra Bansilal Bhalerao)  (22, लांडगेबस्ती, भोसरी, पुणे) नामक आरोपी को गिरफ्तार (Arrested) कर लिया है। उसके खिलाफ पुलिस सिपाही सुमित देवकर (Police constable Sumit Deokar) ने भोसरी थाने में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने बताया कि, भालेराव को 26 मार्च 2021 को पुणे जिले से तड़ीपार किया गया है। उसकी मियाद खत्म होने से पहले ही वह शहर में दाखिल हुआ। उसकी जानकारी मिलने के बाद कार्रवाई के लिए गई पुलिस टीम के साथ गालीगलौज और धक्कामुक्की करते हुए देख लेने की धमकी दी।

 

 

 

Bhagat Singh Koshyari | सशस्त्र क्रांति से घबराकर सत्याग्रह से पूर्व ही अंग्रेजों ने छोड़ा भारत

 

Crime News | अहमदाबाद का पुलिस कमिश्नर बताकर पुलिस से 24 हजार ठगे

You might also like

Comments are closed.