Pune Crime | वारजे के नीलेश गायकवाड़ सहित 11 गुंडों पर मकोका ; पुलिस कमिश्‍नर अमिताभ गुप्‍ता की 61वीं कार्रवाई

पुणे : Pune Crime | अपनी दहशत पैदा करने और बदला लेने के लिए फायरिंग कर जान से मारने का प्रयास करने वाले नीलेश गायकवाड़ (Nilesh Gaikwad) के साथ उसके गैंग के 11 लोगों के खिलाफ मकोका के तहत कार्रवाई (Pune Crime ) की गई है. पुलिस कमिश्‍नर अमिताभ गुप्‍ता (Police Commissioner Amitabh Gupta) ने पिछले सवा वर्षों में की गई यह 61वीं मकोका कार्रवाई है.

इस मामले में नीलेश विजय गायकवाड़ (नि. रामनगर, वारजे), अक्षय रवींद्र खवले, ऋतिक कैलाश एखंडे (नि. म्‍हात्रे पुल के पास ), विकी  उर्फ हेमंत धर्मा काले (नि. रामनगर, वारजे), मोन्‍या उर्फ रामेश्‍वर सुभाष मोरे, कार्तिक संजय इंगवले (18), अनिरूषद्ध उर्फ बाला राजू जाधव (उम्र 24, नि. रावेत गांव), अरविंद मारुति माडकर (उम्र 30, नि. रामनगर, वारजे), अक्षय उर्फ अवधुत महेश यादव (उम्र 27), संकेत राजेंद्र ढेणे (उम्र 23, नि. वारजे), विकास कैलाश गव्‍हाड (उम्र 20, नि. सहयोगनगर, वारजे) के खिलाफ मकोका के तहत कार्रवाई की गई है.

केदार भालशंकर जब 8 अगस्‍त को कार से जा रहा था तभी शिवणे श्‍मशान भूमि से एनडीए रोड के बीच नीलेश गायकवाड़ और उसके साथियों ने पीछाकर फायरिंग कर केदार को जख्‍मी कर जान से मारने का प्रयास किया.

उत्‍तमनगर पुलिस स्‍टेशन के सीनियर पुलिस इंस्‍पेक्‍टर सुनील जैतापुरकर ने डीसीपी पूर्णिमा गायकवाड़ के जरिये अपर पुलिस कमिश्‍नर राजेंद्र डहाले के पास महाराष्‍ट्र संगठित अपरराध नियंत्रण (मकोका) के तहत कार्रवाई का प्रस्‍ताव रखा था. राजेंद्र डहाले ने इस प्रस्‍ताव की पड़ताल कर इसे मंजूर कर लिया. पुलिस कमिश्‍नर अमिताभ गुप्‍ता के मार्गदर्शन में अब तक 61 मकोका कार्रवाई की गई है.

 

Devendra Fadnavis | शीतकालीन अधिवेशन केवल 5 दिनों का, फडणवीस ने जताई भारी नाराजगी

Pune Crime | पुणे के मंचर में अज्ञात वाहन ने बाइक को मारी टक्‍कर ; दंपत्ति की मौके पर ही मौत

Pune Crime | पुणे के नल स्‍टॉप चौक स्थित कंपनी से पैसे देने का विरोध ; कंपनी मालिक की बहन, माता-पिता ने महिला को सोशल मीडिया में किया बदनाम

 

You might also like

Comments are closed.