Pune Crime | मराठे ज्वैलर्स ठगी मामला ; मंजरी मराठे सहित कौस्तुभ मराठे गिरफ्तार 

पुणे, 15 सितंबर : Pune Crime | विभिन्न योजनाओं में कैश, गोल्ड, चांदी पर अच्छा रिटर्न देने का लालच देकर निवेश किये गए रकम और जमा पर रिटर्न न देकर निवेशकों से करोड़ों रुपए की ठगी करने के मामले (Pune Crime) में मराठे ज्वैलर्स (Marathe Jewelers) के कौस्तुभ अरविंद मराठे (Kaustubh Arvind Marathe) और मंजरी कौस्तुभ मराठे (Manjari Kaustubh Marathe) को पुलिस ने गिरफ्तार (arrest) कर लिया है।

दोनों के सोमवार 13 सितंबर को स्पेशल सत्र न्यायालय में हाज़िर होने के बाद  कर लिया गया।  इस मामले में इससे पूर्व पुलिस ने प्रणव मिलिंद मराठे (उम्र 26, नि – रुपाली अपार्टमेंट, एरंडवने ) को गिरफ्तार किया था।  वह फ़िलहाल जेल में बंद है।  जबकि मृतक मिलिंद उर्फ़ बलवंत अरविंद मराठे, नीना मिलिंद मराठे  के साथ अन्य के खिलाफ कोथरुड पुलिस स्टेशन में केस दर्ज है।  उनके खिलाफ शुभांगी विष्णु कुटे (उम्र 59, नि – कोथरुड ) ने शिकायत दर्ज कराई है।  प्रणव मराठे ज्वैलर्स के लक्ष्मी रोड और पौड़ रोड ब्रांच में 14 जनवरी 2017 से जनवरी 2021 के बीच यह घटना हुई।
आरोपियों ने प्रणव मराठे ज्वैलर्स की विभिन्न योजनाओं में कैश, सोना, चांदी का निवेश करवाया और 18  शिकायतकर्ताओं से 5 करोड़ 9 लाख 72 हज़ार 970 रुपए की ठगी की।  इस मामले में 21 मार्च 2021 में केस दर्ज किया गया था।
आरोपी जांच में सहयोग नहीं कर रहे है।  मंजरी मराठे के बैंक अकाउंट में चश्मदीद दवारा निवेश की गई रकम भेजी गई है. साथ ही मंजरी मराठे ने 1 जुलाई 2014 से 30 नवंबर 2018 की अवधि में  ज्वैलर्स संस्था में पार्टनर के रूप में शामिल थी।  आरोपियों से सिग्नेचर के नमूने लेने है।  साथ ही सबूत जुटाना है।  आरोपियों को जमानत देने से वह देश के बाहर चले जाएंगे।  साथ ही चश्मदीद को धमका सकते है।  इस तरह की दलील सरकारी वकील ने कोर्ट में दी है।  मराठे  ज्वैलर्स कंपनी के आरोपी संचालक ने कॉसमॉस बैंक से स्टॉक रकम का गबन किया है।  इसे लेकर आरोपियों से पूछताछ करनी है।  इसलिए 12 दिनों की पुलिस कस्टडी देने की मांग सहायक सरकारी वकील एम बी वाडेकर ने की थी।  कोर्ट ने आरोपियों को 18 सितंबर तक पुलिस कस्टडी में भेज दिया है।

 

Pune Crime | पुणे के शिवाजीनगर में सस्ता घर देने के बहाने ठगी, बड़े बिल्डर सहित 5 लोगों पर FIR 

You might also like

Comments are closed.