Pune Crime | पुणे के कोरेगांव पार्क में निवेशकों से करोड़ों की ठगी !  विदेश भाग रहे एम जी इंटरप्राइज़ेज़ के अलनेश सोमजी, पत्नी डिंपल सोमजी को दिल्ली एयरपोर्ट से पकड़ा ; दम्पत्ति को कब्जे में लेकर क्राइम ब्रांच की टीम पुणे के लिए रवाना 

पुणे (Pune News) : निवेश की गई रकम पर वार्षिक 24% ब्याज देने का झांसा देकर पुणे (Pune Crime) के कई नागरिकों को करोड़ों रुपए का चूना लगाने का मामला सामने आया है।  लोगों के साथ ठगी (Fraud) करने वाले सोमजी दम्पत्ति को पुणे पुलिस (Pune Police) की क्राइम ब्रांच के एंटी  एक्सटॉर्शन   सेल 2 (Crime Branch Anti-Extortion Cell 2) की पुलिस ने एयरपोर्ट से कस्टडी (Custody) में लिया है।  सोमजी दम्पत्ति श्रीलंका के रास्ते कनाडा भागने की फ़िराक में थे।  यह जानकारी सामने आई है।

 

गिरफ्तार (Arrest) आरोपियों के नाम अलनेश अकील सोमजी (Alnesh Aqueel Somji), डिंपल अलनेश सोमजी (Dimple Alnesh Somji) (दोनों नि – अमर वेस्ट्वीड, लेन नंबर 5, कोरेगांव पार्क, पुणे) है।
पुलिस (Police) से मिली जानकारी के अनुसार आरोपियों ने पुणे (Pune) के कई लोगों को 24% रिटर्न देने का झांसा देकर चूना लगाया था।  केस दर्ज होने के बाद आरोपी फरार हो गए थे।  शुक्रवार 29 अक्टूबर को सोमजी दम्पत्ति के खिलाफ लुकआउट नोटिस (Lookout Notice) जारी किया गया था।  आज दोनों को दिल्ली एयरपोर्ट (Delhi Airport) के इमीग्रेशन ने कब्जे में लिया।  आरोपियों को सुबह कब्जे में लेने के बाद इसकी जानकारी पुलिस को दी गई।  इसके अनुसार क्राइम ब्रांच के एंटी एक्सटॉर्शन सेल (Anti Extortion Cell) दिल्ली के लिए रवाना हो गई है।  टीम ने क़ानूनी कार्रवाई कर दम्पत्ति को कब्जे में ले लिया है और दोनों को पुणे लाया जा रहा है।  यह जानकारी पुलिस ने दी है।
यह कार्रवाई पुलिस कमिश्नर अमिताभ गुप्ता (Police Commissioner Amitabh Gupta), जॉइंट पुलिस कमिश्नर डॉ. रवींद्र शिसवे (Joint Police Commissioner Dr. Ravindra Shisve), अपर पुलिस कमिश्नर क्राइम रामनाथ पोकले (Additional Commissioner of Police Crime Ramnath Pokle), डीसीपी क्राइम श्रीनिवास घाडगे (DCP Crime Srinivas Ghadge), सहायक पुलिस कमिश्नर क्राइम 1 लक्ष्मण बोराटे (Assistant Commissioner of Police Crime 1 Laxman Borate) के मार्गदर्शन में पुलिस इंस्पेक्टर बालाजी पांढरे, पुलिस सब इंस्पेक्टर श्रीकांत चव्हाण, अंमलदार सौदाबा  भोजराव , अमोल पिलाने, आशा कोलेकर, हेड कांस्टेबल विजय गुरव, संग्राम शिनगारे, सुरेंद्र जगदाले, शैलेश सुर्वे, राहुल उत्तरकर की टीम ने की।

 

क्या है मामला ?

योगेश विष्णु दीक्षित (Yogesh Vishnu Dixit) (उम्र 41, नि – नाना पेठ) ने कोरेगांव पार्क पुलिस स्टेशन (Koregaon Park Police Station) में शिकायत दर्ज कराई है। आरोपियों ने शिकायतकर्ता के साथ अन्य दो लोगों के साथ 3 करोड़ 37 लाख 48 हज़ार रुपए की ठगी की है।  पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आरोपियों ने शिकायतकर्ता व उनके परिवार को एम जी इंटरप्राइज़ेज़ फार्म (MG Enterprises Farm) में पैसे निवेश करने पर 24% रिटर्न मिलने के झांसा दिया था।  शिकायतकर्ता ने इस पर विश्वास कर निवेश किया।  शिकायतकर्ता व उनके परिवार ने आरोपियों पर विश्वास कर 45 लाख रुपए का निवेश किया।  यह रकम डिंपल सोमजी के बैंक अकाउंट में जमा किया।
शिकायतकर्ता दवारा जमा किये गए 45 लाख रुपए पर 21 लाख 90 हज़ार सहित कुल 66 लाख 90 हज़ार रुपए रिटर्न देने का आश्वासन दिया गया था।  लेकिन आरोपियों ने न तो ब्याज के पैसे दिए और न ही मूल रकम वापस कर ठगी (Fraud) की।  इसके अलावा आरोपियों ने किरण शेट्टी से 57 लाख 33 हज़ार और माया चावला से 1 करोड़ 22 लाख 25 की आर्थिक ठगी की।

 

पैसे मांगने पर भी पैसे नहीं मिलने पर शिकायतकर्ता ने कोरेगांव पुलिस स्टेशन (Koregaon Police Station) में इसकी शिकायत दर्ज करा दी।  शिकायत की जांच कर दो लोगों के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज कर लिया।  इस मामले की जांच पुणे क्राइम ब्रांच के एंटी एक्सटॉर्शन सेल 2 (Anti Extortion Cell 2 of Pune Crime Branch) के पुलिस सब इंस्पेक्टर श्रीकांत चव्हाण (Police Sub Inspector Shrikant Chavan) कर रहे है।

 

 

Pune Crime | येरवडा जेल में मकोका के तहत बंद आरोपी का जन्मदिन मनानेवाले 11 समर्थकों पर कार्रवाई

You might also like

Comments are closed.