Pune Crime | स्वास्थ्य विभाग पेपर लीक मामले में नौसेना का नाविक गिरफ्तार

पुणे : Pune Crime | राज्य स्वास्थ्य विभाग की ओर से स्वास्थ्य विभाग ग्रुप डी के पदों की भर्ती के लिए 31 अक्टूबर को लिखित परीक्षा ली गई थी। इस परीक्षा (health department recruitment fraud case) का पेपर लीक कर सोशल मीडिया (social media) के माध्यम से पब्लिश किया गया था। इस मामले की जांच पुणे साइबर पुलिस (Pune Cyber ​​Police) कर रही है, इस मामले में पुलिस ने नेवल डॉकयार्ड (Naval Dockyard) में नाविक के रूप में कार्यरत एक व्यक्ति को गिरफ्तार (arrest) किया हौ। जांच में पता चला है कि वह आरोपी के संपर्क में था। (Pune Crime)

गिरफ्तार किए गए आरोपी का नाम प्रकाश दिगंबर मिसाल (उम्र 40, नि. वराले, ता. मावल) है। उसे कोर्ट में पेश किया गया और उसे कोर्ट ने पुलिस कस्टडी में रखने का आदेश दिया है। इस मामले में स्वास्थ्य विभाग की ओर से मुख्य प्रशासकीय अधिकारी स्मिता कारेगावकर ने पुणे साइबर पुलिस के पास शिकायत दी थी। इसके अनुसार साइबर पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज किया गया है। इस मामले में इससे पहले विजय प्रह्लाद मुर्हाडे (उम्र 29, नि. नांदी, ता. अंबड, जि. जालना), सुरेश रमेश जगताप (उम्र 28, नि. बोल्हेगाव, ता. घनसांगवी, जि. जालना), संदीप शामराव भुतेकर (उम्र 38, नि. सातारा परिसर, औरंगाबाद), अनिल दगडू गायकवाड (उम्र 31, नि. किनगांववाडी, ता. अंबड), बबन बाजीराव मुंढे (उम्र 48, नि. पलसखेड झालटा, ता. देउलगांव राजा, जि. बुलढाणा) को गिरफ्तार किया गया है।

गिरफ्तार किए गए प्रकाश मिसाल का मोबाइल और सिम जार्ड जब्त किया गया। उसने और किसी को पेपर भेजा है क्या? इसकी जांच करना। साथ ही मिसाल को पेपर पहुंचानेवाले आरोपी की भी जानकारी लेनी है। गिरफ्तार आरोपी  पेपर प्राप्त करने के लिए साथ ही पेपर वितरण करने के लिए और कितने साथियों के संपर्क में था, इसकी जांच करने, आरोपी से मूल हाथ से लिखा प्रश्नोत्तर स्वरूप का पेपर जब्त करना, उसी तरह से हस्ताक्षर के नमूने लेना, ऐसा तर्क देकर सहायक सरकारी वकील विजयसिंह जाधव ने कोर्ट से आरोपी की पुलिस कस्टडी की मांग की। इसके अनुसार कोर्ट ने आरोपी को 10 दिन तक पुलिस कस्टडी में रखने का आदेश दिया है।

पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार भुतेकर सेवानिवृत्त जवान है। वह 2019 में सेना से रिटायर हुआ है। वह औरंगाबाद में सैन्य भर्ती पूर्व प्रशिक्षण देनेवाली नवस्वराज्य नाम से करियर अकेडमी चलाता है। वहीं मिसाल डॉकयार्ड में नाविक है। मिसाल का एक रिश्तेदार बीड में शिक्षक है। उसके पास से मिसाल को पेपर मिला था।

मिसाल ने वह पेपर तीन एजेंट व भुतेकर को दिया था। दोनों ने उम्मीदवार को सुबह 6 बजे बुलाकर 92 प्रश्न व उसके उत्तर याद करा दिए। मिसाल ने एजेंट के माध्यम से चाकण परिसर में 30 उम्मीदवार को बुलाकर प्रश्न-उत्तर बताए। वहीं भुतेकर ने 23 छात्रों को प्रश्न-उत्तर याद कराया। मिसाल को मदद करनेवाला दो एजेंट फरार है।

Pune Crime | पुणे में ‘इस’ वजह से हुई समीर पर फायरिंग! दिनदहाड़े मर्डर करनेवाले का पर्दाफाश, पुलिस ने एक को किया गिरफ्तार

Pune News | 1971 के युद्ध में इंदिरा गांधी का योगदान अविस्मरणीय! शूरवीरों का इतिहास नई पीढ़ी को बताना जरूरी- मंत्री सुनील केदार

Pune News | कर्नाटक में बजा महेशदादा स्पोर्टस फाउंडेशन की महिला कबड्डी टीम का डंका 

 

You might also like

Comments are closed.