Pune Crime | लष्कर कैंटेनमेंट के पूर्व नगरसेवक विवेक यादव दवारा कुख्यात अपराधी की हत्या की सुपारी देने का खुलासा, 2 सुपारी किलर गिरफ्तार; कई हथियार बरामद, जाने मामला 

 

पुणे, 20 जुलाई : (Pune Crime) पुणे पुलिस ने कुख्यात अपराधी  की हत्या की साजिश का पर्दाफाश करते हुए बहुत सारे हथियार जब्त (Pune Crime) किये है। लष्कर कैंटेनमेंट बोर्ड के भाजपा के पूर्व नगरसेवक विवेक महादेव यादव (Vivek Mahadev Yadav, former BJP corporator of Lashkar Cantonment Board) दवारा  इस हत्या की सुपारी दो किलर को दिए जाने का खुलासा हुआ है ।  लेकिन घटना से  पहले ही पुलिस ने दोनों किलर को पकड़ लिया।  उनके खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

इस मामले में राजन जॉन राजमनी (Rajan John Rajmani) (उम्र 28, नि – भाग्योदयनगर, कोंढवा ) व इब्राहिम उर्फ़ हुसैन याकूब शेख (उम्र 27 वर्ष, नि – वाकड ) को गिरफ्तार किया गया है।  इस मामले में कोंढवा पुलिस स्टेशन में केस दर्ज किया गया है।  जबकि विवेक यादव व उसका एक  साथी फरार है।  दोनों की तलाश के लिए  पुलिस की तीन टीमें रवाना की गई है।
विवेक यादव भाजपा के लष्कर कैंटेनमेंट बोर्ड का पूर्व नगरसेवक है।  2016 में यादव पर गणेशोत्सव के दौरान रात में फायरिंग की गई थी।  यह  फायरिंग शातिर बदमाश बबलू गवली ने की थी।  दोनों के बीच पहले से ही दुश्मनी थी. इसी वजह से यह फायरिंग की गई थी।  पहले की फायरिंग और पुरानी दुश्मनी को लेकर विवेक यादव ने दो आरोपियों को बबलू गवली की हत्या की सुपारी दी थी।  उसे कहां  और कैसे मारना है यह भी तय किया गया था।  इसे लेकर कॉल और चैटिंग में दोनों से बात की गई थी। इस  बीच बबलू गवली कोरोना की वजह से फ़िलहाल जेल से बाहर है।  उसे  इसी दौरान मारना था।
इसे लेकर साजिश बनाये जाने की जानकारी पुलिस को मिल गई।  इसके अनुसार पुलिस ने घटना से पहले ही दोनों को पकड़ लिया।  दोनों के पास से 3 पिस्तौल और 7 जिंदा कारतूस बरामद किया गया है।
जानकारी मिली है कि विवेक यादव ने अपने साथी से लेकर दोनों को पिस्तौल दी थी. फ़िलहाल विवेक यादव और उसका साथी फरार है।  इन दोनों को पुलिस कई दिनों से ढूंढ रही है।  लेकिन अब तक दोनों का पता नहीं चल पाया है।  मामले की जांच कोंढवा पुलिस कर रही है।
You might also like

Comments are closed.