Pune Crime | घटिया निर्माण कर पुलिस के पैसे का गबन करनेवाले विनायक डेवलपर्स के विनायक शिरोले, अविनाश शिरोले, निखील शिरोले, सचिन जगताप पर मामला दर्ज

पुणे (Pune News) : कॉन्ट्रैक्ट के अनुसार निर्माण (Pune Crime) न कर हल्का और घटिया  तरीके से काम कर बिल्डिंग की लिफ्ट, रंगरोगण, लाईट, आने-जाने की सड़क जैसे काम को अधूरा छोड़कर पुलिस (Police) के पैसों का गबन करने के मामले में विनायक डेवलपर्स (Vinayak Developers) के संचालक पर भारती विद्यापीठ पुलिस (Bharti Vidyapeeth Police) ने एफआईआर (FIR) दर्ज किया है। विनायक डेवलपर्स के विनायक शिरोले (Vinayak Shirole), अविनाश शिरोले (Avinash Shirole), निखील शिरोले (Nikhil Shirole), सचिन जगताप (Sachin Jagtap) के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। यह घटना अप्रैल 2014 से अप्रैल 2019 के बीच (Pune Crime) हुई है।

 

इस मामले में दिनकर बबन हनमघर (Dinkar Baban Hanamghar) (उम्र-45, नि. सिद्धीविनायक सोसायटी, दत्तनगर) ने भारती विद्यापीठ पुलिस थाने (Bharati Vidyapeeth Police Station) में शिकायत दी है। इस बारे में पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार सिद्धिविनायक सोसायटी के विनायक रेसीडेंसी में फ्लैट पसंद आने के बाद आरोपी ने शिकायतकर्ता का विश्वास जीता और कहा कि फ्लैट बुक करने के एक साल के बाद पजेशन मिल जाएगा। सभी अमेनिटी मिलेगी, ऐसा कहकर फ्लैट की कीमत 14 लाख 50 हजार रुपये तक किया। इसके अनुसार शिकायतकर्ता (Pune Crime) ने 9 लाख 40 हजार रुपये दिए।

 

उसके बाद आरोपी ने बिल्डिंग का काम हल्के और घटिया तरीके से किया था। बिल्डर ने शिकायतकर्ता से कहा कि बचा हुआ काम तुम अपने पैसे से कर लो। इसके अनुसार शिकायतकर्ता ने 4 लाख 70 हजार रुपये खर्च कर काम कराया। शिकायतकर्ता पुलिस दल (Police Team) में कार्यरत है।

 

आरोपी ने बिल्डिंग की लिफ्ट, रंगरोगण, लाईट, आने-जाने के रास्ते का काम अधूरा छोड़ दिया। इसे पूरा करने में टालमटोल करने लगा। आरोपी ने मनपा के नक्शे के अनुसार काम न कर सहकारी सोसायटी में दर्ज करते हुए सोसायटी में हस्तातरित किया। इसलिए (Pune Crime) काम अधूरा रख पैसों के गबन का केस दर्ज किया गया। सहायक पुलिस निरीक्षक पवार (Assistant Police Inspector Pawar) इस मामले की जांच कर रहे हैं।

 

 

 

Pune Accident-Crime | सड़क हादसे में बारामती के एक ही परिवार के 3 सदस्यों की मौत

Pune Crime | पिंपरी में ब्यूटी पार्लर चलानेवाली 37 वर्षीय महिला का तीन साल से यौन शोषण

You might also like

Comments are closed.