Pune Crime | पुणे के पिंपरी-चिंचवड़ के आईटी कंपनी मालिक से 9 लाख रुपए का हफ्ता लेते कुख्यात गजा मारने गिरोह के खास को क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया 

पुणे (Pune News), 11 सितंबर : पिंपरी-चिंचवड़ (Pimpri-Chinchwad) के आईटी कंपनी के मालिक से 9 लाख रुपए का हफ्ता वसूलने (Pune Crime) वाले कुख्यात अपराधी गजा मारने गिरोह (Gaja Marne Gang) के खास को  पुणे पुलिस (Pune Police) के क्राइम ब्रांच (Crime Branch) के एंटी एक्सटॉरशन सेल (Anti Extortion Cell) ने गिरफ्तार (Arrest) कर लिया है।  गिरफ्तार आरोपी के पुणे (Pune Crime) में हुई एक हत्या (Murder) मामले में आरोपी होने की जानकारी मिली है। फ़िलहाल वह जेल से  बाहर आया है।  यह कार्रवाई गुरुवार की रात साढ़े आठ बजे कैंप रोड के डायमंड क्वीन होटल के पास की गई।

 

गिरफ्तार आरोपी का नाम तुषार बालासाहेब बधे (Tushar Balasaheb Badhe) (नि – सुयश अपार्टमेंट, ए बिल्डिंग फ्लैट नंबर – 1, त्रिमूर्ति हॉस्पिटल के पीछे, सिंहगढ़ रोड, धायरी) है।  इस मामले में आईटी प्रोफेशनल (IT Professional) ने एंटी एक्सटॉर्शन का केस (Anti Extortion Case) दर्ज कराया है।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार शिकायतकर्ता की आईटी कंपनी थी लेकिन कोरोना के कारण लगे लॉकडाउन की वजह से उनकी कंपनी बंद हो गई थी। इसलिए वह एसबीआई बैंक (SBI Bank) के लोन प्रोसेसिंग व कस्टमर के डॉक्यूमेंट बैंक में जमा करने का काम करते थे।
इस दौरान एक व्यक्ति ने शिकायतकर्ता को लोन फल्ले पूरी करने के लिए 3 लाख 50 हज़ार रुपए दिया था। लेकिन फाइल में कमी होने की वजह से बैंक ने फाइल रिजेक्ट कर दिया।
फाइल रिजेक्ट होने पर तुपे ने शिकायतकर्ता को दिए पैसे वापस मांगे।  शिकायतकर्ता ने 75 हज़ार रुपए देकर बाकी की रकम थोड़ा-थोड़ा देने की बात कही।  इस बीच तुषार बधे हत्या के मामले में जेल से बाहर आया था। उसने शिकायतकर्ता को धमकी दी कि वाल्मिकी तुपे अपना भाई है।  उसके पैसे वापस कर दो अन्यथा घर का सामान ले जाएंगे।  साथ ही उनकी मां को घर से बाहर निकाल देने की धमकी दी।  आरोपी ने बार-बार फ़ोन पर 9 लाख रुपए का हफ्ता मांगा। आख़िरकार तंग आकर उन्होंने एंटी एक्सटॉरशन सेल (Anti Extortion Cell) में इसकी शिकायत दर्ज करा दी।
सेल ने गुरुवार की रात कैंप रोड में जाल बिछाकर आरोपी तुषार को शिकायतकर्ता से 9 लाख रुपए का हफ्ता लेते रंगेहाथों पकड़ लिया।  उसके खिलाफ बंडगार्डन पुलिस स्टेशन (Bundgarden Police Station) में धारा 384, 385, 386, 504, 506 के तहत केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है।
आरोपी तुषार बधे गुंडा अमोल बधे की हत्या मामले में आरोपी है। साथ ही कुख्यात गुंडा गजा मारने से जुड़ा है।
यह कार्रवाई डीसीपी श्रीनिवास घाडगे, सहायक पुलिस कमिश्नर क्राइम 2 लक्ष्मण बोराटे के मार्गदर्शन में एंटी एक्सटॉरशन सेल 2 के पुलिस इंस्पेक्टर बालाजी पांढरे, पुलिस सब इंस्पेक्टर श्रीकांत चव्हाण, पुलिस अमंलदार संपत अवचरे, शैलेश सुर्वे, सुरेंद्र सुर्वे, सुरेंद्र जगदाले, विनोद सालुंके, सौदाबा भोजराव, सचिन अहिवले, संग्राम शिनगारे, प्रवीण पडवल, प्रदीप गाड़े, मोहन येलपल्ले, चेतन शिरोलकर, आशा कोलेकर की टीम ने की।

 

 

 

Crime News | जलगांव में पति दवारा दहेज़ के लिए किया जा रहा था तगादा ; पत्नी ने फांसी लगाकर किया जीवन समाप्त, पुलिस ने पति को किया गिरफ्तार

Pune Crime | पुणे के बिबवेवाड़ी में मनपा कर्मचारी निकला बड़ा मोबाइल चोर , 2 लाख का माल जब्त