Pune Crime | पुणे के भोर में बदन पर लगे हल्दी का रंग उतरने से पहले दुल्हन ने दिखाया अपना असली चेहरा ; दो दिनों में किया भयानक कांड; जाने मामला 

पुणे/भोर, शादी करके आई दुल्हन (Bride) ने दो दिनों में अपना असली चेहरा ससुराल वालों को दिखा दिया।  नई दुल्हन ने घर में रखे सोने के गहने, कपड़े और कैश लेकर फरार हो गई।  यह घटना पुणे (Pune Crime) जिले में हुई है।  नई दुल्हन के इस कारनामे से ससुराल वालों को तगड़ा झटका लगा है।  यह घटना पुणे (Pune Crime) जिले के भोर (Bhor) तालुका के निगुड़घर में हुई है।  इस मामले में नगर जिले की दुल्हन के साथ मध्यस्थता करने वाले पांच लोगों के खिलाफ भोर पुलिस स्टेशन (Bhor Police Station) में केस दर्ज (FIR) किया गया है।

 

दूल्हे के पिता कैलाश बबन  लिंभोरे  (Kailash Baban Limbhore)  (उम्र 65, नि – निगुड़घर ) ने भोर पुलिस स्टेशन (Bhor Police Station) में शिकायत दर्ज कराई है. पुलिस (Police) से मिली जानकारी के अनुसार कैलाश लिंभोरे को फलटण तालुका के कापडगाव में पुनर्वसन के तहत जमीन मिली है।  इसलिए उनका यहां आना-जाना लगा रहता है।  उनकी जमीन के बगल में रहने वाले बाबू जाधव (Babu Jadhav) ने सुरेश मारुती बुधावले (Suresh Maruti Budhawale) (नि – दहीगांव, तालुका – माळशिरस, जिला – सोलापुर ) से उनकी पहचान कराई थी।
इसके बाद सुरेश बुधावले ने राजू अवघडे व बापजी कृष्णा चव्हाण की मदद से श्रीगोंदा तालुका के पेड़गांव में राजू देवते की बेटी मनीषा के शादी के लायक होने की बात बताई।  लेकिन इस शादी के लिए 1 लाख 20 हज़ार रुपए की मांग की।  बेटे के शादी की खातिर लिंभोरे  ने पैसे देना कबूल कर लिया।  लड़की का गांव दूर होने के कारण शादी की तैयारी करके जाने का सुझाव सुरेश बुधावले, राजू अवघडे व बापजी चव्हाण ने लिंभोरे  को दिया।

 

इसके अनुसार शुक्रवार 1 अक्टूबर को दूल्हे के साथ 9 लोग पेड़गांव गए. जाते ही लड़की के लिए 22 हज़ार का मंगलसूत्र लिया।  साथ ही चांदी  का पट्टा, गहने और तीन हज़ार रुपए की साड़ी खरीदी। इस दौरान बापजी चव्हाण और राजू अवघडे ने कैलाश लिंभोरे  से 60 हज़ार रुपए लिए।  पेड़गांव जाने के बाद राजू देवते ने लड़की मनीषा राजेंद्र पवार (Manisha Rajendra Pawar) के चाचा से बोलकर शादी करवा दी।  शाम के वक़्त दुल्हन मनीषा को लेकर निगुड़घर आ गए।

 

रविवार 3 अक्टूबर को कैलाश लिंभोरे  कापडगांव (Kapadgaon) गए।  उस वक़्त घर में उनका बेटा दिगंबर, उसकी मां और नई दुल्हन मनीषा थी।
सोमवार की सुबह पांच बजे मनीषा ने घर के सोने के गहने, साड़ी और पांच हज़ार कैश पां  लेकर फरार हो गई।  इसके बाद कैलाश लिंभोरे  ने पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है।  पुलिस (Police) ने दुल्हन सहित पांच लोगों के खिलाफ धोखधड़ी का केस दर्ज (Fraud Case) किया है।  मामले की जांच पुलिस सब इंस्पेक्टर बलिराम सांगले (Police Sub Inspector Baliram Sangle) कर रहे है।

 

 

 

Pune Crime | ED दवारा जब्त की गई  बिल्डर डी. एस. कुलकर्णी (DSK) की 40 हज़ार स्क्वायर फ़ीट के सीलबंद बंगले में चोरी ; मची खलबली

You might also like

Comments are closed.