Pune Crime | पुणे में राज्यपाल के खिलाफ आंदोलन करनेवाले ‘राष्ट्रवादी’ के पदाधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज

पुणे : Pune Crime | राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी (Maharashtra Governor Bhagat Singh Koshyari) द्वारा छत्रपति शिवाजी महाराज (Chhatrapati Shivaji Maharaj) का अपमान करने के मामले में राष्ट्रवादी कांग्रेस (NCP) के पदाधिकारियों ने बिना अनुमति के 28 फरवरी को मनपा ( Pune Corporation) के पुराने बिल्डिंग (PMC Old Building) की सीढ़ियों पर आंदोलन (Protest) किया था। इस मामले में अब एफआईआर (FIR) दर्ज किया गया (Pune Crime) है।

 

इसके अनुसार राष्ट्रवादी कांग्रेस के शहराध्यक्ष प्रशांत जगताप (Prashant Jagtap), प्रदीप देशमुख (Pradeep Deshmukh), महेश हाँडे (Mahesh Hande), दिपाली धुमाल (Dipali Dhumal), मृणाली वाणी (Mrunali Vani), सुषमा सातपुते (Sushma Satpute), किशोर कांबले (Kishore Kamble), विक्रम जाधव बालासाहेब बोडके (Vikram Jadhav Balasaheb Bodke), योगेश ससाणे (Yogesh Sasane), सुनील बनकर (Sunil Bankar) साथ ही राष्ट्रवादी कांग्रेस के 25 से 30 महिला, पुरुष कार्यकर्ता के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया गया है।

 

राष्ट्रवादी कांग्रेस के पदाधिकारी व कार्यकर्ता ने किसी भी प्रकार की पुलिस विभाग (Police Department) व अन्य विभाग की पूर्व अनुमति लिए बिना पुणे मनपा कार्यालय (Pune Municipal Office) में अंदर जाने से रोका, उन्होने बिना सुने गैरकानूनी तरीके से भीड़ जमा की। मनपा के पुराने बिल्डिंग की सीढ़ियों पर महाराष्ट्र के राज्यपाल के खिलाफ नारेबाजी कर आंदोलन किया, इसलिए सरकार की ओर से कानूनी शिकायत एक पुलिस सिपाही (Pune Crime) ने दी।

 

पुणे मनपा की बिल्डिंग होने के कारण मनपा कार्यालय से संबंधित अधिकारी शिकायत दे या पुलिस विभाग शिकायत दे, इस पर भ्रम की स्थिति बनी थी। मनपा अधिकारी शिकायत दे, यह अपेक्षित था। उन्होने शिकायत नहीं दी, इसलिए सभी बातों की छानबीन कर मंगलवार को मामला दर्ज किया गया है।

 

 

Pune Crime | बिल्डर सूर्यकांत काकडे, कृष्णा गुरूजी सहित 9 लोगों पर कोथरूड पुलिस थाने में 2 मामला दर्ज

Pune Crime | छेड़छाड़ का मामला दर्ज होने के बाद डॉक्टर ने किया अपहरण कर लूटने का दावा; कोंढवा पुलिस ने चारों के खिलाफ किया जबरन चोरी का मामला दर्ज

You might also like

Comments are closed.