Pune Crime | फर्जी हस्ताक्षर से पुणे मनपा से 99 लाख की धोखाधड़ी

पुणे : अधिकारियों के फर्जी हस्ताक्षर (Pune Crime) से काम पूरा होने की रिपोर्ट बनाकर पुणे मनपा (Pune Municipal) के साथ 99 लाख रुपए की धोखाधड़ी करने की कोशिश किये जाने का चौंकाने वाला मामला सामने आया है। इस बारे में शिवाजीनगर पुलिस (Shivajinagar Police) ने मामला दर्ज किया है। मनपा (PMC) की ओर से प्रल्हाद पवार (Pralhad Pawar) ने शिकायत दर्ज कराई है, इसके अनुसार योगेश चंद्रशेखर मोरे (Yogesh Chandrashekhar More) के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। 10 फरवरी से 21 अक्टूबर के बीच यह घटना (Pune Crime) घटी है।

 

गुरुवार को पुणे मनपा (Pune Municipal) की आम सभा संपन्न हुई। इस सभा में विपक्ष ने इस मुद्दे पर सत्तारूढ़ भाजपा (BJP) और प्रशासन को आड़े हाथों लिया था। इसके बाद मनपा प्रशासन (Municipal Administration) की ओर से शिवाजीनगर थाने (Shivajinagar Police Station) में शिकायत दर्ज कराई गई है। इस मामले में पुलिस (Police) से मिली जानकारी के अनुसार बाणेर, नवी पेठ और कोथरूड में मनपा श्मशान भूमि (Municipal cremation ground) में विद्युत विषयक कामों को पूरा करने का बताक़र 99 लाख 8 हजार रुपए का फर्जी बिल (fake bill) तैयार किया गया।

 

 

इसके बाद मनपा के सर्व साधारण फॉर्म बिल बनाकर उस पर मनपा के संबंधित अधिकारियों के फर्जी हस्ताक्षर कर मुहर लगाकर परस्पर कार्यालयीन इनवर्ड (office inward) कर स्वास्थ्य विभाग (Health Department) को ये बिल भेजे गए। ये बिल मंजूर कर मनपा (PMC) के साथ आर्थिक धोखाधड़ी करने की कोशिश की गई। सर्वसाधारण सभा में यह मामला सामने आने के बाद मनपा की ओर से पुलिस (Police) में शिकायत दर्ज कराई गई। पुलिस ने योगेश मोरे के खिलाफ मामला (Case) दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

 

 

 

Baramati Crime | अजीत पवार के आदेश के बाद पुलिस अलर्ट 

 

Pune Crime | पुणे के कोंढवा में डॉक्टर दवारा 14 वर्षीय लड़की से पूछने पर 4 वर्ष पहले की वो घटना सामने आई 

You might also like

Comments are closed.