Pune Crime | 70 हजार की घूस लेते महिला पुलिस उपनिरीक्षक धराई

सहायक फौजदार भाग निकलने में सफल; सांगवी में एसीबी की कार्रवाई

पिंपरी : Pune Crime | शिकायत अर्जी के अनुसार मामला दर्ज न करने के लिए 1 लाख रुपए की मांग करते हुए 70 हजार रुपए की घूस लेने के मामले में एसीबी (एंटी करप्शन ब्यूरो) पुणे (Pune) की पिंपरी चिंचवड़ (Pimpri Chinchwad) की सांगवी पुलिस थाने (Sangvi Police Station) की महिला उपनिरीक्षक को गिरफ्तार (Arrest) किया है। गुरुवार की शाम सांगवी थाने में की गई इस कार्रवाई महिला अधिकारी की ओर से रिश्वत (Bribe) लेते हुए पकड़ने के दौरान एक सहायक फौजदार एसीबी की टीम के साथ धक्कामुक्की कर मोटरसाइकिल पर सवार होकर भाग निकलने में सफल रहा है।

 

इस बारे में एसीबी पुणे के पुलिस अधीक्षक राजेश बनसोडे (Rajesh Bansode) द्वारा जारी किये गए बयान के अनुसार हेमा सिध्दराम सोलुंके (Hema Siddaram Solunke) (28) ऐसी गिरफ्तार की गई महिला पुलिस उपनिरीक्षक का नाम है। जबकि सहायक फौजदार अशोक बालकृष्‍ण देसाई (Ashok Balakrishna Desai) मौके से भाग निकला है। उन दोनों के खिलाफ सांगवी पुलिस थाने में भ्रष्टाचार प्रतिबंध कानून (corruption ban law) के तहत मामला दर्ज किया गया है। इन दोनों पुलिसवालों की तैनाती सांगवी थाने में ही है। इस बारे में एक 42 वर्षीय शिकायतकर्ता ने एसीबी के पास शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस उपनिरीक्षक हेमा सोलुंके के पास शिकायतकर्ता के खिलाफ एक शिकायत अर्जी की छानबीन थी।

 

इसकी जांच कर उसके खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज न करने के लिए उससे एक लाख रुपए की घूस मांगी गई थी, जो बाद में 70 हजार रुपए तय की गई। इस शिकायत की पुष्टि करने के बाद आज शाम जाल बिछाया गया। यहां सहायक फौजदार अशोक देसाई को पैसे लेते हुए पकड़ने के दौरान वह एसीबी की टीम को धक्का देकर मौके से भाग निकला। उसने ये डील पुलिस (Police) उपनिरीक्षक सोलुंके के कहने पर की थी, यह साबित होने से एसीबी ने उसे हिरासत में ले लिया।

 

 

 

Pune Crime | सरपंच व उपसरपंच की प्रताड़ना से तंग आकर पैरालाइसिसग्रस्‍त ग्राम पंचायत के प्यून ने कार्यालय में की आत्‍महत्‍या

 

Baramati News | कर कर्जा नहीं देंगे, बिजली का बिल भी नहीं देंगे, बारामती में किसान संगठनों का अनूठा आंदोलन

You might also like

Comments are closed.