Pune Coronavirus Update | पुणे में अभी भी हैं खतरा बरकरार

पुणे कोरोना संक्रमण

पुणे (Pune News) – कोरोना की तीसरी लहर (Pune Coronavirus Update) के संभावित खतरे को देखते हुए देशभर में अब तैयारियां चल रही हैं। नीति आयोग ने दो लाख ऑक्सीजन बेड (oxygen bed) बनाने का निर्देश दिया। चिकित्सा विशेषज्ञों ने सलाह दी है कि कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है। पुणेकरो (Pune Coronavirus Update) को मास्क (Mask) पहने रहना जरुरी है। बेवजह इधर-उधर न घूमे। अपने और अपने परिवार का ध्यान रखे। बिना मास्क के कोई बाहर न निकलें। जब तक कि कोरोना संक्रमण (Corona Infection) की संभावना पूरी तरह से कम न हो जाए।

पुणे (Pune) शहर और जिले में पिछले महीने से कोरोना पीड़ितों की संख्या में कमी आई है। साथ ही हाल के दिनों में पाबंदियों (restrictions) में ढील दी गई है। दिन भर नियमित रूप से दुकानें, होटल, मॉल, कार्यालय खुल रहे हैं। नतीजतन, शहर और जिले के नागरिकों में अब कोरोना खत्म होने की भावना बढ़ गई है, चिकित्सा विशेषज्ञों ने देखा। जिसके बाद ही यह  सलाह दी।

पुणे शहर में कुछ हद तक जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में अधिकांश नागरिक मास्क नहीं पहनते हैं। आपके शहर और जिले में अभी भी कोरोना के प्रकोप (corona outbreak) का खतरा है। उन्होंने मास्क का उपयोग करने की भी अपील की। कोरोना वायरस (Coronavirus) की संख्या बढ़ रही थी, जिसमें N95 के बाद से 70 से 80 प्रतिशत मास्क बिक रहे थे। हालांकि, पिछले एक महीने में मास्क की बिक्री में 10 से 20 फीसदी की गिरावट आई है।

पुणे डिस्ट्रिक्ट केमिस्ट्स एसोसिएशन (Pune District Chemists Association) के सचिव अनिल बेलकर (Anil Belkar) ने कहा- कोरोना संक्रमण से खुद को बचाने के लिए मास्क पहनना जरूरी है। साथ ही यह मास्क वायु प्रदूषण से भी बचाता है। इसलिए अपने और अपने परिवार के लिए बिना मास्क के बाहर न निकलें। शहर ने पिछले साल से सार्वजनिक स्थानों (public place) पर चलते समय नाक और मुंह को पूरी तरह से ढकने वाला मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया है। पिछले दो महीने से नागरिक इन नियमों का सख्ती से पालन कर रहे हैं। हालांकि अब ज्यादातर लोग बिना मास्क पहने सड़कों पर घूमते नजर आ रहे हैं। युवा, खासकर साइकिल चलाने वाले, ठीक से मास्क नहीं पहनते हैं।

पुणे (Pune) में कोरोना मरीजों (corona patient) की संख्या में कमी आई है। ऐसे में लोगों को लगता है कि मास्क की अहमियत खत्म हो गई है। वे बिना मास्क पहने घूम रहे हैं। लेकिन, सच तो यह है कि अब मास्क का महत्व बढ़ गया है।

जन स्वास्थ्य विभाग (Health Department) के सेवानिवृत्त महानिदेशक डॉ. कृष्ण कुमार ( Dr. Krishna Kumar) ने कहा कि जब तक वायरस श्वसन प्रणाली को प्रभावित करता है, तब तक मास्क का महत्व बना रहेगा।

 

 

Delta Plus Variant | चिंता कायम ! राज्य में डेल्टा प्लस के मरीज बढ़े

Pune Police Inspector Transfer | पुणे के समर्थ पुलिस स्टेशन के विवादित इस पुलिस इंस्पेक्टर का आख़िरकार ट्रांसफर हुआ

 

 

 

 

You might also like

Comments are closed.