Pune | निल मेटल कंपनी में 13500 रुपये का वेतनवृद्धि का करार संपन्न

पिंपरी : Pune | उद्योगनगरी पिंपरी चिंचवड़ (Pimpri Chinchwad) से सटे चाकण महाळुंगे एमआयडीसी (MIDC) की निल मेटल प्रॉडक्ट लिमिटेड (Nil Metal Products Limited) कंपनी के प्रबंधन एवं यहां के मजदूरों का नेतृत्व करनेवाले हिंद कामगार संगठन के प्रतिनिधि के बीच तीसरा वेतनवृद्धि का एैतिहासिक करार संपन्न हुआ। अगस्त 2021 से प्रलंबित वेतनवृद्धि का करार 13500 रुपये एकत्रित बढ़ोतरी के साथ मंजूर होने से मजदूरों में उत्साह और आनंद का वातावरण निर्माण हुआ (Pune) है। उन्होंने कोरोना काल में हुई इस वेतनवृद्धि के लिए हिंद कामगार संगठन के अध्यक्ष डॉ कैलाश कदम (Dr. Kailash Kadam) और प्रबंधन का आभार जताया।

 

इस करार पर हिंद कामगार संगठन के अध्यक्ष डॉ. कैलास कदम, महासचिव यशवंत सुपेकर, उपाध्यक्ष शांताराम कदम, कोषाध्यक्ष सचिन कदम, गणेश गोरीवले, मजदूर प्रतिनिधि संतोष पवार, अमोल पाटील, राजेंद्र पातोंड, विलास खरात, दीपक खरात व नवनाथ नाईकनवरे प्रबंधन की ओर से कंपनी के कार्पोरेट एच.आर. हेड प्रितपाल खुराना, एच. आर. हेड संजय भसे, एच. आर. असिस्टंट कालूराम रेटवडे, प्लांट हेड मिलिंद जठार, ऑपरेशन हेड संदीप कांबले, फायनान्स विभाग के नागराज शेट्टी, प्रोडक्शन हेड सचिन कानाडे ने हस्ताक्षर किया।

 

यह समझौता करार तीन साल की अवधि के लिए वैध है। इसमे तीन साल के लिए दिवाली बोनस 22,800 रुपये और अनुग्रह अनुदान 6,000 रुपये प्रति वर्ष होगा। साथ ही 50,000 रुपये का अंतर नकद में दिया जाएगा। मेडिक्लेम पॉलिसी के तहत 2 लाख रुपये में श्रमिक स्वयं, पत्नी, 2 बच्चे और माता, पिता शामिल होंगे। कर्मचारी की आकस्मिक मृत्यु होने पर 11 लाख रुपये या प्राकृतिक मृत्यु होने पर 10 लाख रुपये का भुगतान किया जाएगा। मृत्यु सहायता कोष के लिए कंपनी के सभी कर्मचारियों का एक दिन का वेतन और दुगनी राशि कंपनी प्रबंधन द्वारा इसमें जोड़ दी जाएगी और संबंधित कर्मचारियों के वारिसों को मृत्यु सहायता कोष के रूप में दी जाएगी। गैर-वापसी योग्य श्रमिकों को मृत्यु होने पर आपातकालीन सहायता के रूप में 15000 रुपये दिए जाएंगे।  शैक्षिक पुरस्कार योजना के तहत श्रमिकों के बच्चों को 2000 से 3500 रुपये का विशेष प्रतिशत दिया जाएगा।

 

 
औद्योगिक व देश विकास में सहयोग दें: डॉ कदम

 

 
निल मेटल प्रोडक्ट्स लिमिटेड (Nil Metal Products Limited) कंपनी के प्रबंधन ने हिंद कामगार संगठन के मांग पत्र पर सकारात्मक प्रतिक्रिया दी। अब श्रमिकों को भी गुणवत्ता और मात्रा की जिम्मेदारी को सफलतापूर्वक निभाना चाहिए। मजदूर तभी बचेगा जब कंपनी बचेगी, सभी मजदूरों को इस बात की जानकारी होनी चाहिए और देश के औद्योगिक और जीडीपी विकास (GDP growth) में योगदान देना चाहिए, यह आह्वान डॉ कैलाश कदम (Dr. Kailash Kadam) ने किया।

 

 

 

Pune News | पंचवार्षिक सर्वेक्षण की पूर्व तैयारी के तहत फेरीवाला समिति की बैठक

 

Pune News | दफ़नभूमि की मांग के लिए मुस्लिम भाइयों ने कसी कमर

You might also like

Comments are closed.