Loading...

‘निवार’ भीषण चक्रवात में बदला, चेन्नई में भारी बारिश, जगह-जगह जलजमाव

Loading...

 चेन्नई. ऑनलाइन टीम : तमिलनाडु और पुडुचेरी के तट से आज चक्रवाती तूफान निवार गुजरने वाला है। इस तूफान की स्थिति तेजी से बदल रही है और यह 120 से 130 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार वाले अत्यंत गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल सकता है। तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और पुडुचेरी में चक्रवाती तूफान निवार के मद्देनजर एनडीआरएफ के करीब 1,200 बचावकर्मियों को तैनात किया गया है और 800 अन्य को तैयार रखा गया है।

Loading...
Loading...

बुधवार को मौसम विभाग द्वारा जारी बुलेटिन में कहा गया, चक्रवाती तूफान के अगले 12 घंटे में अति विकराल रूप धरने की आशंका प्रबल है। इसके उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ने और 25 नवंबर की रात या 26 नवंबर तड़के तमिलनाडु और पुडुचेरी के बीच कराईकल और मामल्लापुरम पर तट से टकराने की आशंका है। तूफान की गति 120-130 किलोमीटर प्रति घंटा रहेगी, जो बढ़कर 145 किलोमीटर प्रति घंटा हो सकती है।  एरिया साइक्लोन वार्निंग सेंटर के निदेशक ने बताया कि चक्रवाती तूफान चेन्नई से 350 किमी दक्षिण में है और यह उत्तर पश्चिम की तरफ बढ़ रहा है। चक्रवाती तूफान के भयंकर चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना है।
तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई के कई हिस्सों में जलजमाव हो गया है। निवार के चलते शहर में भारी बारिश हो रही है। पुड्डुचेरी में निचले इलाकों से लोगों को बाहर निकाला जा रहा है। उन्हें भोजन, पानी, हैंड सैनिटाइजर और फेस मास्क मुहैया कराया जा रहा है। मछुआरों को समुद्र में ना जाने की सलाह दी गई है।  तटीय इलाकों में बिना किसी कारण लोगों से घर से बाहर निकलने से मना किया गया है। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ), तटरक्षक बल, दमकल विभाग सहित विभिन्न राज्य और केंद्रीय एजेंसियों के कर्मचारियों की तैनाती किसी भी स्थिति से निपटने के लिए की गई है।
मौसम विभाग ने कहा कि बुधवार को तूफान के प्रभाव से तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल के ज्यादातर हिस्सों में बारिश हो सकती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी और पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी से बातचीत कर तूफान से पैदा हालात की जानकारी ली और केंद्र से हर संभव मदद का भरोसा दिया।

Loading...

Comments are closed.