पिंपरी चिंचवड की स्वच्छता रैंकिंग में आया सुधार गत तीन साल से लगातार रहा पीछे; अब 52 से उठकर 14वें स्थान पर पहुंचा

पिंपरी। संवाददाता गत तीन साल से स्वच्छता की रैंकिंग तय करनेवाले स्वच्छ सर्वेक्षण में पिछड़ रहे पिंपरी चिंचवड शहर की रैंकिंग में सुधार आया है। गत साल देशभर में 52वें स्थान से उठकर पिंपरी चिंचवड शहर ने इस साल स्वच्छता लीग के दूसरे चरण में 14वां स्थान हासिल किया है। वहीं इसके पहले लीग में शहर को छठा स्थान मिला है। अब तीसरे लीग का सर्वेक्षण शुरू है जिसके लिए पिंपरी चिंचवड मनपा ने जोरदार तैयारी शुरू की है।
इस बारे में मनपा के मुख्य स्वास्थ्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. के. अनिल रॉय ने बताया कि, पिंपरी चिंचवड शहर में स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 शुरू हो गया है। इसका मुख्य उद्देश्य नागिरकों और समाज के हर तबके को स्वच्छ भारत अभियान में शामिल करना और उनमें जागरूकता, शिक्षा व संवाद के द्वारा उनके बर्ताव में बदलाव लाना है। केंद्र सरकार ने गत तीन साल से स्वच्छ सर्वेक्षण में बदलाव किया है। स्वच्छ सर्वेक्षण साल में एक ही बार करने की प्रणाली बंद कर उसकी बजाय हर तीन माह में सर्वेक्षण करना शुरू किया है।
पहला सर्वेक्षण लीग मार्च से मई और दूसरा लीग जून से अगस्त में हुआ। पहले लीग में पिंपरी चिंचवड मनपा छठे नंबर थी जबकि दूसरे लीग में 14वें पायदान पर आई है। अब तीसरे लीग का सर्वेक्षण शुरू है। यह सर्वेक्षण परोक्ष जगह पर पहुंचकर किया जाएगा। दूसरे लीग में मनपा ने 1646 मार्क्स का दावा किया था मगर परोक्ष में 1409 मार्क्स मिले। इसमें फोन से शहरवासियों से अभिप्राय मंगाए गए थे।बहरहाल दोनों लीग में पहले दस शहरों में नवी मुंबई और नासिक शहरों का समावेश है। जबकि इंदौर दोनों लीग में पहले पायदान पर है।
You might also like

Comments are closed.