Pimpri Chinchwad Police Recruitment | पिंपरी चिंचवड पुलिस भर्ती परीक्षा: कहीं मिला मास्क में डिवाइस तो कहीं डमी परीक्षार्थी

पिंपरी : किसी भी सरकारी भर्ती की परीक्षा हो और उसमें धांधली न हो, ऐसा हो नहीं सकता। शुक्रवार को पिंपरी चिंचवड़ में पुलिस सिपाही भर्ती (Pimpri Chinchwad Police Recruitment) के लिए ली गई लिखित परीक्षा में भी ऐसा ही हुआ। यहां हिंजवड़ी के एक परीक्षा केंद्र (exam center) में परीक्षा के लिए आये एक परीक्षार्थी के मास्क में इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस (electronic device) लगा हुआ पाया गया जबकि बावधन के परीक्षा केंद्र में डमी परीक्षार्थी पकड़ा गया। दोनों ही मामलों (Pimpri Chinchwad Police Recruitment) में हिंजवड़ी पुलिस (Hinjewadi Police) ने धोखाधड़ी का केस (Case) दर्ज किया गया और दो लोगों को गिरफ्तार (Arrest) किया गया।

 

पिंपरी चिंचवड पुलिस (Pimpri Chinchwad Police) में सिपाही की 720 सीटों की भर्ती के लिए पुणे, अहमदनगर, सोलापुर, औरंगाबाद, नासिक, नागपुर जिलों में लिखित परीक्षा (Written Exam) ली गई। इन छह जिलों के 444 परीक्षा केंद्रों के 7384 हॉल में परीक्षा ली गई। इस भर्ती के लिए एक लाख 90 हजार आवदेन प्राप्त हुए थे। परीक्षा में कॉपी या दूसरे अनुचित प्रकार न हो इसके लिए पिंपरी चिंचवड़ के परीक्षा केंद्रों पर अपर पुलिस आयुक्त (CP), 15 उपायुक्त (DCP), 25 सहायक आयुक्त, 177 पुलिस निरीक्षक (PI), 636 सहायक निरीक्षक  (API)/ उपनिरीक्षक, 11 हजार 838 पुलिस अंमलदार कुल 12 हजार 696 पुलिस अधिकारी व कर्मचारियों का बंदोबस्त तैनात था।
 
पुलिस की सतर्कता से परीक्षा में धांधली के दो मामले समय रहते उजागर हो सके। पहला मामला हिंजवडी के ब्लू रिज स्कूल (Blue Ridge School) में सामने आया। यहां परीक्षा देने के लिए आये एक परीक्षार्थी के मास्क में इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस (electronic device) लगा हुआ पाया गया। तलाशी के दौरान मास्क का वजन ज्यादा लगने से उसे ठीक से चेक किया गया। तब उसमें इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस लगा हुआ पाया गया। हालांकि यह ध्यान में आते ही परीक्षार्थी वहां से भाग चुका था। उसके मास्क में बैटरी, चिप, सिमकार्ड पाया गया। इसके जरिए यह ‘मुन्नाभाई’ कॉपी करने वाला था। यह परीक्षार्थी कौन था और कॉपी करने में वह किसे या कौन उसकी कैसे मदद करनेवाला था, पुलिस (Police) यह जानने में जुटी हुई है। इस बारे में अज्ञात परीक्षार्थी के खिलाफ हिंजवड़ी पुलिस ने मामला दर्ज किया है।
दूसरा मामला बावधन के एक परिक्षा केंद्र पर सामने आया है। यहां डमी परीक्षार्थी को परीक्षा में बिठाने की कोशिश की गई। इस बारे में एक 28 वर्षीय महिला की शिकायत के आधार पर हिंजवड़ी पुलिस ने मामला दर्ज करते हुए मुनाफ हुसैन बेग (Munaf Hussain Baig) (निवासी कालेगांव, जालना) और प्रकाश रामसिंग धनावत (Prakash Ramsing Dhanawat) (रा. मुपोकरमाड, औरंगाबाद) को गिरफ्तार (Arrest) किया गया है। इस बारे में पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, बावधन के अरिहंत इन्स्टिट्यूट ऑफ बिजनेस मैनेजमेंट (Arihant Institute of Business Management) के परीक्षा केंद्र पर मूल परीक्षार्थी प्रकाश धनावट की जगह पर मुनाफ बेग डमी के तौर पर परीक्षा देने आया था। दोनों की शक्लें कुछ समान रहने से शुरू में किसी को शक नहीं हुआ। हालांकि जब यह ध्यान में आया और मुनाफ से पूछताछ की गई तो उसने खुद को प्रकाश ही बताया। उसे तीन बार हस्ताक्षर करने को कहा गया तब उसमें असमानता मिली। फिर पूछताछ में उसने सबकुछ उगल दिया। इसके अनुसार उसे हिरासत में लिया गया और परीक्षा केंद्र के पास से मूल परीक्षार्थी प्रकाश को भी दबोच लिया गया।

 

 

 

Pune | पिंपरी चिंचवड़ के 62 अस्पतालों का फायर ऑडिट नहीं

 

Pune Crime | मावल के 40 ग्रामवासियों को भोजन से विषबाधा

You might also like

Comments are closed.