Pimpri Chinchwad | नगरसेवक तुषार कामठे के लेटरबम से भाजपा में खलबली

दोनों विधायकों की तानाशाही से मनपा चुनाव में नुकसान का अंदेशा

पिंपरी (Pimpri News) : Pimpri Chinchwad | राष्ट्रवादी कांग्रेस (Nationalist Congress) के हाईकमान शरद पवार (Sharad Pawar) द्वारा लगाए गए भ्रष्टाचार (Corruption) के आरोपों से बेजार हुई पिंपरी चिंचवड़ भाजपा (Pimpri Chinchwad BJP) के खेमे में तब खलबली मच गई, जब पार्टी के नगरसेवक तुषार कामठे  (Tushar Kamthe) ने एक ‘लेटरबम’ के जरिये भाजपा विधायकों की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा है कि शहराध्यक्ष व विधायक महेश लांडगे (MLA Mahesh Landge) और विधायक लक्ष्मण जगताप (MLA Laxman Jagtap) की तानाशाही और गलत कामों से आगामी मनपा चुनाव (Upcoming municipal election) में पार्टी को नुकसान होने की संभावना से इनकार नहीं किया (Pimpri Chinchwad) जा सकता।

 

पिछले कुछ दिनों से भाजपा (BJP) से नाराज चल रहे नगरसेवक तुषार कामठे ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष व विधायक चंद्रकांत पाटिल (Chandrakant Patil) व नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) से लिखित शिकायत की है। पार्टी के दिग्गजों को भेजे गए इस पत्र में, कामठे ने कहा, हम सभी आगामी नगरपालिका चुनावों की पृष्ठभूमि में पिंपरी-चिंचवड़ मनपा (Pimpri-Chinchwad Municipal Corporation) पर फिर से भाजपा का झंडा फहराने का इरादा रखते हैं। हालांकि, शहर में भाजपा के दो विधायकों महेश लांडगे और लक्ष्मण जगताप के पिछले पांच वर्षों में गलत कामों के कारण आने वाले चुनावों में भाजपा को झटका लगने की संभावना है।

 

तय है कि भाजपा विधायकों द्वारा किए गए भ्रष्टाचार के लिए विपक्ष और जनता मनपा चुनाव में अपने नगरसेवकों को जमकर खरी-खोटी सुनाएगी। लांडगे व जगताप ने मनपा में मनमानी व तानाशाही से दखल देकर कई नगरसेवकों को प्रताड़ित किया है। इसलिए हमारी ही पार्टी के कुछ नगरसेवक प्रशासन से नाखुश हैं। इसलिए आगामी मनपा चुनाव टिकट वितरण के संबंध में निर्णय लेते वक्त लांडगे या जगताप समूह के समर्थक, रिश्तेदार या मित्रों की बजाय भाजपा के मेहनती और सच्चे कार्यकर्ताओं को उम्मीदवारी दी जाए, यह मांग नगरसेवक कामठे ने की है।

 

 

कुछ स्थानीय राष्ट्रवादी कांग्रेस (Nationalist Congress) के नेताओं द्वारा शहर में चर्चा चलाई है कि, कई नगरसेवम भाजपा छोड़ देंगे क्योंकि वे भाजपा विधायकों की मनमानी से तंग आ चुके हैं। परंतु मैं किसी भाजपा विधायक समूह के सदस्य के रूप में नहीं, बल्कि भाजपा के सच्चे कद्दावर के रूप में काम कर रहा हूं। जिन दो विधायकों ने गलत काम किया है, वे अपनी चमड़ी बचाने के लिए पार्टी छोड़ सकते हैं लेकिन मैं हमेशा भाजपा की विचारधारा से प्रेरित एक साधारण समाजवादी के रूप में पार्टी के प्रति वफादार रहूंगा और पार्टी को होने वाले नुकसान को नहीं देख सकता। नगरसेवक तुषार कामठे ने दावा किया कि ये दोनों विधायक समय-समय पर अपनी पार्टी बदलते रहेंगे लेकिन एक नया कार्यकर्ता अपनी पार्टी कभी नहीं बदल सकता।

 

 

Pune | शिरूर-हवेली के विधायक अशोक पवार को जान से मारने की धमकी, गुमनाम पत्र से मची खलबली

You might also like

Comments are closed.