दयनीय अवस्था में दिखे परवेज मुशर्रफ, पाकिस्तानी बोले ‘अपने कर्मो का फल भोग रहे’

इस्लामाबाद : पाकिस्तान में नवाज शरीफ की सरकार को गिराकर सैन्य शासन लागू करने वाले सेना प्रमुख परवेज मुशर्रफ की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। कभी पाकिस्तान के राष्ट्रपति रहे मुशर्रफ की हालत गंभीर बताई जा रही है। सोशल मीडिया पर वायरल मुशर्रफ की फोटो पर पाकिस्तान के लोगो ने मिली जुली प्रतिक्रियाएँ दी हैं।

वर्तमान में परवेज मुशर्रफ गंभीर रूप से बीमार बताए जा रहे हैं। वायरल फोटो में मुशर्रफ व्हीलचेयर पर बैठे नजर आ रहे हैं और उनकी हालत खराब दिख रही है। ऑल पार्टीज मुस्लिम लीग (एपीएमएल) ने मुशर्रफ की एक तस्वीर साझा करते हुए उन्हें शुभकामनाएं दी हैं। हालांकि पाकिस्तानी यूजर्स द्वारा उनकी आलोचना की जा रही है। मुशर्रफ पाकिस्तान के हीरो नहीं हैं। यूजर्स ने उनर टिप्पणी करते हुए लिखी कि उन्होने पाकिस्तान को अमेरिका के हाथो बेच दिया। उन्होने ये भी कहा कि आज वो अपने कर्मों का फल भोग रहे हैं।

हालांकि एपीएमएल ने ट्वीट को हटा दिया, लेकिन मुशर्रफ के कैबिनेट मंत्री और वर्तमान पाकिस्तानी मंत्री चौधरी फवाद हुसैन ने मुशर्रफ की एक तस्वीर साझा की और उन्हें जल्द से जल्द ठीक होने की शुभकामनाएं दीं।

1999 में भारत-पाकिस्तान शांति वार्ता के दौरान  तत्कालीन सेना प्रमुख परवेज मुशर्रफ ने कारगिल युद्ध की शुरुआत की। उसके बाद उन्होने नवाज शरीफ की सरकार को गिराकर सत्ता पर काबिज हो गए।मुशर्रफ 2001 से 2008 तक पाकिस्तान के राष्ट्रपति रहे। मुशर्रफ ने महाभियोग से बचने के लिए 2008 में राष्ट्रपति पद से इस्तीफा दिया। देशद्रोह के आरोप में 2019 में मुशर्रफ को मौत की सजा सुनाई गई थी। पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) ने 2007 में मुशर्रफ के खिलाफ संविधान का उल्लंघन करने और आपातकाल की स्थिति घोषित करने के लिए राजद्रोह का मामला दर्ज कराया था। मुशर्रफ 2016 में इलाज के लिए दुबई गए थे और गिरफ्तारी के डर से वे वापस पाकिस्तान नहीं लौटे।

You might also like

Comments are closed.