पंकजा मुंडे की मांग उचित, धनंजय मुंडे को देना चाहिए इस्तीफ़ा : प्रवीण दरेकर

मुंबई : पूजा चव्हाण आत्महत्या प्रकरण में चर्चा में आए वन मंत्री संजय राठोड ने अंत में अपना इस्तीफ़ा दे दिया।  उनके ऊपर आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला जारी है। पूजा चव्हाण के बाद रेणू शर्मा प्रकरण एक बार फिर से चर्चा मे आ गया है। अब धीरे-धीरे धनंजय मुंडे के इस्तीफ़े की मांग शुरू हो गई है। विधान परिषद के विपक्ष नेता प्रवीण दरेकर ने धनंजय मुंडे के इस्तीफ़े की मांग की है।

पंकजा मुंडे ने भी धनंजय मुंडे के इस्तीफ़े की मांग की थी। पंकजा मुंडे के इस मांग को दरेकर ने सपोर्ट किया है। दरेकर ने ये भी कहा कि धनंजय मुंडे के इस्तीफे को लेकर भाजपा कड़ा रुख अपनायेगी।

शिवसेना में अंदरूनी कलह

दरेकर ने कहा कि संजय राठोड ने तो इस्तीफा दे दिया है। हालंकि रेणू शर्मा प्रकरण में धनंजय मुंडे से अभी तक इस्तीफ़ा नहीं लिया गया है। धनंजय मुंडे को अलग न्याय देने पर शिवसेना में अंदरूनी कलह शुरू है। शिवसेना चाहता था कि अपने नेता को संरक्षण मिलना चाहिए। शिवसेना के मुख्यमंत्री होने के बाद भी शिवसेना का पलड़ा कमजोर दिख रहा है।

राष्ट्रवादी कांग्रेस धनंजय मुंडे को बचा रही है

धनंजय मुंडे को राष्ट्रवादी बचा रही है। भाजपा ने धमकी दी थी कि जब तक संजय राठोड इस्तीफ़ा नहीं देंगे तब तक सत्र चलने नहीं देंगे। इसके बाद ही राठोड ने इस्तीफ़ा दिया। दरेकर ने कहा कि अब जब इनकी नैतिकता जाग गई है तो उसी आधार पर धनंजय मुंडे को भी इस्तीफ़ा देने की मांग पंकजा मुंडे ने की थी। उनकी ये मांग उचित है। उन्हे इस्तीफ़ा दे देना चाहिए, महाराष्ट्र की जनता उनका स्वागत करेगी।

You might also like

Comments are closed.