पंढरपुर : अजित पवार के ‘इस’ बात से भाजपा परेशान

पंढरपुर : पंढरपुर मंगलवेढ़ा उपचुनाव का प्रचार जोरों पर है, ऐसे में चुनाव प्रचार और बैठकों के लिए राष्ट्रवादी कांग्रेस जोर लगाती नजर आ रही है। उप मुख्यमंत्री अजीत पवार उस निर्वाचन क्षेत्र में कई सभाएं कर रहे हैं। कल अजित पवार पंढरपुर में दिन भर सभा करने के बाद रात में कई क्षेत्रों के लोगों के साथ बातचीत की।

इस निर्वाचन क्षेत्र में बीजेपी का प्रभुत्व होने के बावजूद अजित पवार उस निर्वाचन क्षेत्र के लोगों के साथ संवाद साध रहे हैं। वहीं धनगर समाज के कई नेता और प्रमुख कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। पवार ने कहा कि राष्ट्रवादी आपके साथ खड़ी है। उन्होंने यह अपील भी की है। यह चुनाव महत्वपूर्ण और प्रतिष्ठा का माना जा रहा है। उस समय पवार ने पालक मंत्री दत्तात्रय भरणे को साथ में लेकर पहली बार धनगर समाज के नेता आदित्य फत्तेपुरकर के आवास पर उनसे मुलाकात की। इसके बाद पवार ने मनसे के राज्य समन्वयक और शैडो सहकार मंत्री दिलीप धोत्रे के घर गए और उनके साथ ही कार्यकर्ताओं से भी बातचीत की। पवार के इन बैठकों और मुलाकातों का सिलसिला जारी है।

पंढरपुर के भाजपा कार्यवाहक समूह की नगराध्यक्षा साधना भोसले के साथ अजीत पवार की मुलाकात से भाजपा में चर्चा उफान पर है। साधना भोसले भाजपा के चिन्ह पर चुनकर आई है। उनके पति और पूर्व उप नगराध्यक्ष नागेश भोसले ने विरोध करते हुए अपनी उम्मीदवारी दर्ज की थी। लेकिन उन्हे उम्मीदवारी वापस लेनी पड़ी इसलिए वे नाराज थे। इसी का फायदा उठाकर पवार ने साधना भोसले से मुलाकात की। इस तरह की चर्चा शुरू है।

इस बीच अजित पवार ने किसी भी परिस्थिति में चुनाव जीतने के लिए चुनावी सभा की लाइन लगा दी है। रात में हुई मुलाकात की वजह से भाजपा के सामने संकट दिख रहा है। हालांकि  भाजपा के विपक्ष नेता देवेंद्र फडणवीस ने अभी तक अभियान में हिस्सा नहीं लिया है। साथ ही अजित पवार 9 अप्रैल यानी कि आज मंगलवेढा में प्रचार कर रहे हैं, उससे भाजपा की परेशानी बढ़ती हुई नजर आ रही है।

You might also like

Comments are closed.