जनधन खातों में आई बहार, जमा राशि एक लाख करोड़ रुपये के पार

नई दिल्ली : समाचार ऑनलाईन – जनधन योजना के तहत खोले गये बैंक खातों में जमा राशि एक लाख करोड़ रुपये के आंकड़े को पार कर गयी है। मोदी सरकार ने पांच साल पहले इस योजना की शुरुआत की थी। वित्त मंत्रालय के ताजा आंकड़े के मुताबिक, तीन जुलाई की स्थिति के अनुसार, 36।06 करोड़ खातों में 1,00,495।94 करोड़ रुपये थे। जनधन लाभार्थियों के खातों में जमा राशि निरंतर बढ़ रही है।

इससे पहले छह जून को इन खातों में यह राशि 99,649।84 करोड़ रुपये तथा उससे एक सप्ताह पहले 99,232।71 करोड़ रुपये थी। प्रधानमंत्री जनधन योजना (पीएमजेडीवाई) की शुरुआत 28 अगस्त, 2014 को की गयी थी। इसका मकसद देश के उन लोगों को बैंक सुविधाएं उपलब्ध कराना है, जो इससे वंचित थे।

पीएमजेडीवाइ के तहत खोला गया खाता मूल बचत बैंक जमा (बीएसबीडी) खाता है। इसके साथ रूपे डेबिट कार्ड और ओवरड्राफ्ट की सुविधा दी जाती है। बीएसबीडी खाते में न्यूनतम राशि रखने की जरूरत नहीं है। अब तक 28।44 करोड़ खाताधारकों को रूपे डेबिट कार्ड जारी किये गये हैं।

योजना की सफलता से उत्साहित सरकार ने 28 अगस्त, 2018 के बाद खोले गये खातों के लिए दुर्घटना बीमा एक लाख रुपये से बढ़ाकर दो लाख रुपये कर दिये हैं। इसके साथ ओवरड्राफ्ट की सीमा भी दोगुनी कर 10,000 रुपये कर दी गयी है।

You might also like

Comments are closed.