आम आदमी को एक और झटका, महंगी होगी इंश्योरेंस पॉलिसी! जानें नया प्लान?

 नई दिल्ली : ऑनलाइन टीम – देश में लगातार महंगाई बढ़ती जा रही है। पेट्रोल व डीजल से लेकर रसोई के सामानों के दाम में आग लगी हुई है। आम आदमी को बेहिसाब महंगाई से जूझना पड़ रहा है। वहीं, अब अप्रैल से शुरू हो रहे वित्त वर्ष 2021-22 से जनता पर और बोझ बढ़ने वाला है। ज्यादातर LED टीवी उत्पादक कंपनियां पहले ही दाम बढ़ाने की बात कर चुकी हैं। अब बीमा कंपनियां भी टर्म इंश्योरेंस प्रीमियम महंगा करने की तैयारी में हैं।

साल 2020 में लोगों के लिए स्वास्थ्य और जीनव बीमा का महत्व बढ़ा है। कोरोना काल में लोग इंश्योरेंस की ओर ज्यादा आकर्षित हुए हैं। जिन लोगों ने पहले से ही बीमा करा रखा था, वे अब हेल्थ इंश्योरेंस का दायरा बढ़ा रहे हैं। लेकिन अगले महीने से आपको इंश्योरेंस महंगा पड़ सकता है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जीवन बीमा कराने की लागत 10 से 15 फीसदी तक बढ़ सकती है। दरअसल कोरोना वायरस महामारी के चलते इंश्योरेंस कंपनियों नुकसान हुआ है। इस दौरान दौरान कंपनियों की बीमा लागत और खर्च काफी बढ़ गई है। जिसकी वजह से लाइफ कवर लेना महंगा होने वाला है। मालूम हो कि इस बढ़त का असर पॉलिसी लेने वाले नए ग्राहकों पर होगा। पुराने ग्राहकों के लिए जो प्रीमियम तय किया गया था, उन्हें उसी का भुगतान करना होगा।

क्या है टर्म इंश्योरेंस?
टर्म इंश्योरेंस किफायती इंश्योरेंस प्लान होते हैं जो आपके प्रियजनों को किसी भी आकस्मिक घटना की स्थिति में पूरी सुरक्षा और वित्तीय स्थिरता देते हैं। पॉलिसी अवधि में बीमाधारक की मृत्यु होने पर उसके नॉमिनी को अच्छी रकम मिलती है। टर्म इंश्योरेंस अपने परिवार को लंबे समय तक सुरक्षा देने का सबसे किफायती तरीका है।

क्यों महंगी हो रही इंश्योरेंस पॉलिसी –
दरअसल, कोरोना महामारी की वजह से इंश्योरेंस कंपनियों को काफी नुकसान झेलना पड़ा है। इस दौरान कंपनियों की बीमा लागत और खर्च काफी बढ़ गई है। यही वहज है कि लाइफ कवर लेना महंगा होने वाला है। हालांकि राहत की बात ये है कि टर्म इंश्योरेंस प्रीमियम महंगा होने का असर पुराने ग्राहकों पर नहीं पढ़ेगा। उन्हें जो प्रीमियम तय किया गया था, उसी का भुगतान करना होगा।

You might also like

Comments are closed.