Omicron variant | ओमायक्रोन से निपटने मुस्तैद हुई पिंपरी चिंचवड़ मनपा

नया भोसरी हॉस्पिटल नए वेरिएंट और विदेश से लौटे संक्रमितों के लिए आरक्षित; वैक्सिनेशन ही संरक्षण का एकमात्र जरिया: मनपा आयुक्त

पिंपरी : दो साल से कोरोना के प्रकोप से उबर रहे पिंपरी चिंचवड़ (Pimpri Chinchwad) शहर में तब चिंता बढ़ गई जब यहां महामारी के नए वेरिएंट ओमायक्रोन (Omicron variant) से संक्रमित छह लोग पाए गए। नए वेरिएंट की ‘एंट्री’ के बाद मनपा प्रशासन (Municipal Administration) पूरी तरह से मुस्तैद हो गया है। विदेश से शहर में लौटे लोगों की ट्रेसिंग पर जोर दिया जा रहा है। महापौर ऊषा ढोरे (Mayor Usha Dhore) और मनपा आयुक्त राजेश पाटिल (Municipal Commissioner Rajesh Patil) ने सोमवार को एक संवाददाता सम्मेलन के जरिये शहरवासियों से घबराने की बजाय सतर्क रहने और कोविड नियमों के पालन की अपील की गई है। वैक्सिनेशन ही इस महामारी (Omicron variant) से संरक्षण का एकमात्र जरिया है, यह बताकर वैक्सीन की दोनों खुराक लेने का आह्वान भी उन्होंने किया।

 

 

नए वेरिएंट की पृष्ठभूमि पर मनपा की ओर से की जा रही उपाययोजनाओं के बारे में जानकारी देते हुए मनपा आयुक्त ने कहा कि, भोसरी में मनपा का नया अस्पताल पूरी तरह से नए वेरिएंट ओमायक्रोन वायरस (Variant Omicron Virus) से संक्रमित और विदेश से लौटे कोरोना पॉजिटिव (corona positive) लोगों के लिए आरक्षित रखा गया है। पिंपरी में मनपा का जिजामाता हॉस्पिटल कोरोना पॉजिटिव (Jijamata hospital corona positive) छोटे बच्चों के लिए रिजर्व है। जबकि थेरगांव और आकुर्डी स्थित स्व प्रभाकर कुटे (prabhakar kute) मनपा अस्पताल (Municipal Hospital) कोरोना के अन्य सभी मरीजों के लिए उपलब्ध है। मरीजों की संख्या बढ़ने की सूरत में चिंचवड़ ऑटो क्लस्टर और नेहरूनगर स्थित अण्णासाहेब मगर स्टेडियम (Annasaheb Magar Stadium) के जंबो कोविड हॉस्पिटल (Jumbo Covid Hospital) को तैयार रखा गया है। वाईसीएम हॉस्पिटल (YCM Hospital) को फिलहाल नॉन कोविड मरीजों के लिए ही खुला रखा गया है। इस संवाददाता सम्मेलन में उपमहापौर हीराबाई घुले, सभागृह नेता नामदेव ढाके, अतिरिक्त आयुक्त विलास ढाकणे, सहायक आयुक्त अण्णा बोदडे, चिकित्सा अधिकारी डॉ लक्ष्मण गोफने आदि उपस्थित थे।

 

 

नए वेरियंट की पृष्ठभूमि पर सरकार के निर्देशानुसार पिंपरी चिंचवड़ (Pimpri Chinchwad) में विदेशों से लौटे 138 यात्रियों की प्राप्त लिस्ट के आधार पर उनकी खोजबीन की गई। उनमें से 86 लोगों की टेस्ट की गई है। उनमें से 70 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव मिली है। जबकि 7 लोग कोविड पॉजिटिव (covid positive) पाए गए। उनके संपर्क में आये लोगों की टेस्ट करने पर उनमें 9 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। विदेश से लौटे 19 लोगों की एयरपोर्ट या निजी लैब के जरिये की गई आरटीपीसीआर टेस्ट (RTPCR Test) की रिपोर्ट निगेटिव मिली है। वहीं 16 यात्री शहर से वापस लौट चूके हैं। अन्य 17 जिसमें 4 व 8 माह के दो बच्चे शामिल हैं, यात्रियों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। कोविड पॉजिटिव मिले 16 में से 6 मरीजों में नए वेरियंट ओमायक्रोन का संक्रमण पाया गया है। अन्य 10 मरीजों की नए संक्रमण पहचानने की जिनोम सिक्वेंसिंग की रिपोर्ट एनआईवी से मिलनी बाकी है।
ओमायक्रोन संक्रमितों की तबीयत स्थिर
जिन छह मरीजों में ओमायक्रोन का संक्रमण (omicron infection) पाया गया है उसमें से तीन लोग नाइजीरिया से शहर में आये हैं जबकि अन्य तीन उनके संपर्क में आये उनके निकटवर्ती हैं। असल में 24 नवंबर को मूल भारतीय वंश की एक 44 वर्षीय महिला अपनी 12 व 18 साल की दो बेटियों के साथ पिंपरी चिंचवड़ (Pimpri Chinchwad) में अपने भाई से मिलने आयी। उनकी आरटीपीसीआर टेस्ट (RTPCR Test) की गई जिसकी 1 दिसंबर को मिली रिपोर्ट में वे तीनों कोरोना संक्रमित पाए गए। उनके संपर्क में आये महिला के भाई और उसकी दो बेटियों समेत 13 लोगों की टेस्ट की गई जिसमें महिला का भाई व उसकी बेटियां भी पॉजिटिव मिले। उनमें नए वेरियंट का संक्रमण है या नहीं जांचने के लिए उनकी लार के नमूने एनआईवी में भेजे गए। बीती शाम उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है। इन सभी के संपर्क में आये 13 लोगों की भी टेस्ट की गई है। छह संक्रमितों में से तीन लोग 18 वर्ष के भीतर आयुवाले रहने से उनकी वैक्सिनेशन नहीं हो सकी गई है। जबकि अन्य तीन में से दो ने कोविशिल्ड और एक नए कोवैक्सीन की डोज ली हैं। इन सभी संक्रमितों का जिजामाता हॉस्पिटल (Jijamata hospital) में इलाज जारी है, सभी की तबियत स्थिर है। महिला छोड़कर अन्य किसी में भी कोई लक्षण नहीं हैं, यह भी आयुक्त राजेश पाटिल (Rajesh Patil) ने बताया।

 

 

 

 

Pune news | महापरिनिर्वाण दिन पर भाजपा विधायक महेश लांडगे ने दिल्ली में अर्पित की श्रद्धांजलि

 

Pune News | दिव्यांगों ने आपस में शादी की तो मनपा देगी 2 लाख की वित्तीय मदद

 

Pune News | तीन माह से काम ठप्प रहने से मेट्रो को रोजाना 6 लाख का नुकसान

You might also like

Comments are closed.