अब कंपनियां इंस्टाग्राम-ट्विटर के जरिए दे रही हैं जॉब

समाचार ऑनलाइन– इन दिनों कई कंपनियों ने जॉब देने की भर्ती प्रक्रिया के लिए विज्ञापन देने से दूरी बना ली है. क्योंकि कंपनियां अब विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफार्म जैसे instagram, ट्वीटर आदि के जरिए नौकरी के ऑफर दे रही हैं. यह कदम अपनाकर कंपनियां भी खुश हैं, क्योंकि सोशल मीडिया से आजकल लगभग हर एक युवा जुड़ा हुआ है इसलिए उन्हें अलग से रिक्रूटमेंट संबंधी एड देने पर पैसा भी नहीं खर्च करना पड़ रहा है. या यूं कहें कि कंपनिया सोशल मिडिया अकाउंट के जरिए होनहार युवाओं की तलाश कर रही है. यहाँ तक कि विशेषज्ञों का भी मानना है कि सोशल मीडिया पर क्रिएटिव लोगों को आसानी से ढूंढा जा सकता है.

IBM
 ने नौकरी तलाश रहे युवाओं के लिए बनाया था विशेष पेज
आपको बता दें कि, IT इंडस्ट्री में जॉब करने के इच्छुक युवाओं के लिए इसी साल इंस्टाग्राम पर एक पेज बनाया था. इस पेज का नाम ‘लाइफएट IBM’ रखा गया. यहाँ पर कंपनी के कर्मचारी अपना एक्सपीरियंस भी शेयर कर सकते हैं. साथ ही नौकरी तलाश रहे युवा इस पेज पर दिए गए लिंक अपना CV भी  भेज सकते हैं.

एक्सेंचर ने भी बनाया करियर पेज
नामी IT कंपनी एक्सेंचर ने भी IBM की तरह इंस्टाग्राम पर एक करियर पेज क्रिएट किया है. IT कंपनी में रोजगार तलाश रहे युवाओं के लिए यह काफी मददगार सिद्ध हुआ है. इस बात का अंदाजा आपको इसी बात से लग जाएगा कि आज इसके पेज के 40,000 फॉलोअर हैं.

हायरिंग डेस्टिनेशन के रूप में पॉपुलर हों रहा है इंस्टाग्राम

टीमलीज सर्विसेज की एग्जिक्यूटिव वाइस प्रेसिडेंट रितुपर्णा चक्रबर्ती द्वारा दी गई जानकारी से इस बात की पुष्टि करती है कि सच में सोशल मीडिया साइट्स करियर ऑप्शन उपलब्ध करवा रही हैं. उनका कहना है कि, पिछले दो में इंस्टाग्राम हायरिंग डेस्टिनेशन के रूप में डेवलप हुआ है. इसके जरिए पब्लिक रिलेशन, कंटेंट राइटिंग, फोटोग्राफी, फैशन और एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री से जुड़े कई लोग इंस्टाग्राम पर आसानी से मिले हैं.

देश में इंस्टाग्राम यूजर्स की संख्या 6.9 करोड़ के पार

बता दें कि स्टैटिस्टा की रिपोर्ट के अनुसार देशभर में 6.9 करोड़ लोग इंस्टाग्राम से जुड़े हुए हैं. साल  2019 के आंकड़ों के अनुसार इन्स्टा से अधिकतर यूवा जुड़े हुए हैं, जिनकी उम्र 35 साल से कम है. कंपनियां भी इसी उम्र के युवाओं को अपनी कंपनी का हिस्सा बनाना चाहती हैं. इसलिए कुशल युवाओं की तलाश कर रही कंपनियां इनके अकाउंट को खंगालती रहती हैं.

गौरतलब है कि इंफोसिस, एक्सेंचर, आईबीएम और विप्रो जैसी आईटी कंपनियों के ट्विटर और इंस्टाग्राम पर लाखों फॉलोअर्स हैं, जिसका फायदा उठाते हुए कंपनिया कुशल कैंडिडेट की तलाश में रहती है.

डिलीवरी कंपनी डुंजो के हेड (ब्रांड और मार्केटिंग) साईं गणेश के मुताबिक 80 फीसदी रिज्यूमे सोशल मीडिया पोस्ट के माध्यम से ही प्राप्त होते हैं.

You might also like

Comments are closed.