अब ‘बंगाली’ में ममता बनर्जी को ‘चुनौती’ देंगे अमित शाह, ‘भाषा’ सीखने के लिए रखा ‘टीचर’

नई दिल्ली : समाचार ऑनलाइन– पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव को अभी एक साल बाकी है। हालांकि, भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने अभी से उसकी तैयारी शुरू कर दी है। खबर है कि, भाजपा अध्यक्ष बंगाली भाषा सीख रहे हैं ताकि चुनाव की रणनीति में कोई चूक न हो और भाषा बाधा न बन पाए. एक समाचार एजेंसी के अनुसार, अमित शाह ने बंगाली सिखने के लिए एक शिक्षक भी नियुक्त किया है। भाजपा अध्यक्ष कोशिश कर रहे हैं कि, कैसे कम से कम शब्दों में भाषण को प्रभावी बनाया जाए. साथ ही वह पश्चिम बंगाल में बंगाली भाषा में अपना भाषण देने की तैयारी में जुटे हुए हैं.

बा दें कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी “माँ, माटी और मानुष” का नारा लगाती हैं. हाल ही के दिनों में उन्होंने बंगाली अस्मिता को जगाने की बहुत कोशिश की है। ममता बनर्जी ने अपनी बैठकों में भाजपा अध्यक्ष को बाहरी शख्स बताया है.

सभी जानते हैं कि अमित शाह को चुनावी रणनीति विशेषज्ञ माना जाता है। प्रत्येक चुनाव के लिए शाह की अलग रणनीति होती है। लेकिन महाराष्ट्र, हरियाणा और झारखंड विधानसभा में हार के बाद, अमित शाह अब बंगाल चुनाव के फार्मूले को प्रभावी बनाना चाहते हैं. इसके लिए कार्यकर्ताओं के साथ संवाद और समन्वय बेहद जरूरी है. इसलिए भाषा रस्ते में न आएं, इस बात को ध्यान में रखते हुए शाह बंगाली भाषा सीख रहे हैं.

पश्चिम बंगाल में भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने कहा है कि,  “इसमें कोई नई बात नहीं है. भाजपा अध्यक्ष देश के विभिन्न राज्यों में बोली जाने वाली चार भाषाओं को सीख रहे हैं, जिनमें बंगाली और तमिल भी शामिल है.”

कई लोगों को आश्चर्य होता है कि, गुजरात में इतने साल बिताने के बाद भी अमित शाह अच्छी तरह से हिंदी कैसे बोलते हैं. इस पर सूत्रों का कहना है कि, अमित शाह के जेल में रहने और कोर्ट द्वारा दो साल तक गुजरात में प्रवेश बैन करने के दौरान उन्होंने हिंदी पर अपनी पकड़ मजबूत की.

भाजपा अध्यक्ष बनने से पहले, उन्होंने पहले पूरे देश और प्रमुख तीर्थों का दौरा किया। इससे उन्हें देश के कई स्थानों के राजनीतिक, सामाजिक और धार्मिक पहलुओं को समझने में मदद मिली। इस वजह से, वे उत्तर प्रदेश और पूर्वोत्तर में चुनाव जीतने में सक्षम रहे। बहुत से लोग यह नहीं जानते कि अमित शाह बहुभाषी हैं और उन्होंने शास्त्रीय संगीत का अध्ययन भी किया है. वह रिलेक्स होने के लिए शास्त्रीय संगीत और योग का अभ्यास करते हैं.

You might also like

Comments are closed.