Nitin Landge Bribe Case | पिंपरी महापालिका की स्थायी समिति पर एंटी कॉरप्शन की कार्रवाई पर अजित पवार का बड़ा बयान

पिंपरी – Nitin Landge Bribe Case | होर्डिंग टेंडर वर्क ऑर्डर जारी करने के लिए 10 लाख रुपए की रिश्वत मांगने के आरोप में पिंपरी चिंचवड महानगरपालिका (PCMC) के स्थायी समिती के अध्यक्ष (Chairman of Standing Committee) अ‍ॅड. नितीन लांडगे को एंटी कॉरप्शन (Nitin Landge Bribe Case) की टीम ने गिरफ्तार (arrest) किया है। इस बीच उपमुख्यमंत्री और राकांपा नेता अजित पवार (ajit pawar) ने इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। अजित पवार ने कहा- ये वो पैसा है जो जनता के टैक्स  से आया है। अगर कोई इस पर निजी नजर रख रहा है तो यह पिंपरी-चिंचवड़ का दुर्भाग्य है।

अजित पवार ने आगे कहा कि यह हर पार्टी को तय करना है कि किसे इस्तीफा देना चाहिए। लेकिन, निगम के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है। ये शहरवासी इसे खुली आंखों से देख रहे हैं। ये तब हुआ है जब नगर निगम में बीजेपी सत्ता में थी। वास्तव में मैं भी बीस वर्षों तक इस शहर का नेतृत्व करता रहा हूं। लेकिन, ऐसी चीजें नहीं होने दी गईं। फिर भी अगर ऐसा देखा गया तो मैंने संबंधित लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करते हुए पीछे मुड़कर नहीं देखा। उन्होंने भाजपा की आलोचना करते हुए कहा कि यह पिंपरी-चिंचवड़ का दुर्भाग्य है कि अगर कोई टैक्स के पैसे को लेकर इस तरह का कर रहा है।

अजीत पवार ने आगे कहा, जो कोई भी है, वह जांच में सामने आएगा। जब तक जांच पूरी नहीं हो जाती, तब तक इस पर और टिप्पणी करना उचित नहीं होगा।

उन्होंने कहा, ‘लेकिन अगर वे राकांपा से ताल्लुक रखते हैं तो हम उचित कार्रवाई करेंगे।

 

Pune | आधार पंजीकरण एवं अपडेट करने के लिए पुणे डाक विभाग का विशेष अभियान

Pune Anti Corruption | 8 हजार रिश्वत लेते बिजली कंपनी के अधिकारी सहित एक व्यक्ति को एंटी करप्शन ब्यूरो ने किया गिरफ्तार

You might also like

Comments are closed.