Nagpur | नागपुर के मेडिकल कॉलेज के 70 छात्रों को डेंगू जैसी बीमारी

नागपुर (Nagpur News) : चार महीने पहले (Nagpur) मेडिकल के छात्र (Medical Student) कोरोना की चपेट में आ गए थे। अब मेडिकल के छात्र डेंगू बुखार से परेशान हैं। दो महीने में 70 से अधिक छात्रों को डेंगू (Dengue) जैसी बीमारी का पता चला है, जिनमें से 25 को डेंगू (Nagpur) होने की बात स्पष्ट हुई है।

 

मेडिकल डिग्री के छात्रों से रेजिडेंट डॉक्टरों को डेंगू जैसी बीमारी ने डस लिया है। डेंगू से पीड़ित एक रेजिडेंट डॉक्टर का फिलहाल मेडिकल वार्ड (Medical Ward) में इलाज चल रहा है। रेजिडेंट डॉक्टर और इंटर्न डॉक्टर भी डेंगू जैसी बीमारी से पीड़ित हैं। दो महीने में करीब 30 रेजिडेंट डॉक्टरों, 20 एमबीबीएस छात्रों (MBBS Student) और करीब 25 इन-हाउस डॉक्टरों को बुखार हो गया था।

 

उनमें से लगभग 25 को डेंगू का पता चला था। फिलहाल एक रेजिडेंट डॉक्टर का इलाज मेडिकल के पेइंग वार्ड में चल रहा है। कुछ छात्रों का घर पर या छात्रावास में इलाज चल रहा है, और कई ठीक भी हो गए हैं। मेडिकल कैंपस (Medical Campus) में काफी मात्रा में घास है। इस घास को हर साल काटी जाती है। कीटनाशकों का छिड़काव किया जाता है। लेकिन, इस बार कोरोना की वजह से अनदेखी की गई। कीटनाशकों के छिड़काव में देरी से यहां मच्छरों का प्रकोप बढ़ गया है।

 

 

————————————————————————————————————————————————

 

Nagpur | अघोरी पूजा के लिए चेन्नई से अपहरण किये गया बालक मुक्त ; दो अपहरणकर्ता गिरफ्तार, नागपुर रेलवे स्टेशन पर कार्रवाई

नागपुर (Nagpur News), 20 सितंबर : अघोरी पूजा (Aghori Puja) के लिए तांत्रिक की सलाह पर चार साल के बच्चे का तमिलनाडु से अपहरण कर मध्य प्रदेश (Nagpur) ला रहे दो ढोंगी को नागपुर रेलवे स्टेशन (Nagpur Railway Station) पर पुलिस (Police) ने गिरफ्तार कर लिया।  गिरफ्तार (Arrest) आरोपियों के नाम मोनू गरीबदास केवट (Monu Garibdas Kewat) (उम्र 26, नि – कोलार महंत, तालुका- बरेली, जिला- रायसेन) और शिब्बू गुड्डू केवट (Shibbu Guddu Kewat) (उम्र 22, नि – बोरास घाट, तालुका- उदयपुर, जिला रायसेन, मध्य प्रदेश ) है।  आरोपियों से बच्चे को आजाद करा लिया गया है। 

Maharashtra | पशुप्रेम में गंवाई जान ; युवक की बाघ के हमले में मौत

You might also like

Comments are closed.