Nawab Malik | ‘लाव रे तो वीडियो’ कहते हुए नवाब मलिक का नया धमाका  

मुंबई (Mumbai News) : राष्ट्रवादी कांग्रेस नेता नवाब मलिक (Nawab Malik) ने प्रेस कॉन्फ्रेस कर बड़ा खुलासा किया है।  मुंबई (Mumbai) से गोवा (Goa) जाने वाली क्रूज पर एनसीबी (NCB) ने छापा मारकर ड्रग्ज पार्टी का खुलासा किया था।  इस कार्रवाई पर नवाब मलिक (Nawab Malik) ने गंभीर आरोप लगाए  है।  नवाब मलिक ने लगातार तीन दिन प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बड़ा-बड़ा खुलासा किया है. ये सारे खुलासे मलिक ने डॉक्युमेंट्स के साथ किये है।
मलिक दवारा जारी किये गए सारे सबूत वीडियो में है।  मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे (Raj Thackeray) का प्रसिद्ध वाक्य, ‘लाव रे तो वीडियो ‘ का सहारा लेते हुए मलिक ने इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में एनसीबी (NCB) दवारा की गई कार्रवाई के बाद सामने आये फुटेज का वीडियो दिखाया है।  इन वीडियो (Video) के जरिये उन्होंने गंभीर आरोप लगाते हुए एनसीबी पर सवाल खड़े किये है।

 

पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस का वीडियो (Nawab Malik)

आर्यन खान (Aryan Khan) की गिरफ़्तारी फ़र्ज़ी (Fake Arrest) है।  पिछले एक महीने से इसे लेकर पत्रकारों के बीच जानकारी साझा की जा रही थी कि  अगला निशाना शाहरुख खान (Shahrukh Khan) है।  नवाब मलिक ने कहा कि कार्रवाई के संदर्भ में जो वीडियो वायरल हुआ है. उस वीडियो में एक व्यक्ति आर्यन खान को लेकर जा रहे है और उसके साथ आर्यन खान का एक सेल्फी है। इसके बाद एक अधिकारी के जरिये मिली जानकारी के अनुसार एनसीबी (NCB) ने कहा कि यह व्यक्ति हमारा अधिकारी नहीं है।  अरबाज मर्चेंट का भी एक वीडियो एनआईए ने जारी किया है। इसमें लाल शर्ट पहना व्यक्ति नज़र आ रहा है. इस वीडियो में पहला व्यक्ति के पी गोसावी है जबकि दूसरा व्यक्ति मनीष भानुशाली है। यह व्यक्ति भाजपा का है।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi), अमित शाह (Amit Shah), देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis), जे पी नड्डा (J P Nadda) और आशीष शेलार (Ashish Shelar) के साथ फोटो है।  इसे लेकर मलिक ने कई सवाल खड़े किये है।  उन्होंने सवाल किया है कि एनसीबी (NCB) और भाजपा (BJP) का क्या संबंध है और इसे सिद्ध करे।

 

आज के प्रेस कॉन्फ्रेंस में वीडियो

एनसीबी ने कहा था कि उसने 8 लोगों को कस्टडी (Custody) में लिया है।  लेकिन एनसीबी ने 11 लोगों को कस्टडी में लिया था।  उन्होंने तीन लोगों को छोड़ दिया।  इनमें रिषभ सचदेवा, प्रतिक गाबा, अमीर फर्नीचरवाला को छोड़ दिया गया है।  नवाब मालिक ने खुलासा किया है कि रिषभ सचदेवा (Rishabh Sachdeva) का भाजपा नेता से संबंध है।  रिषभ भाजपा युवा मोर्चा के मोहित भारती का साला है।  इस मौके पर मलिक ने इन तीनों के एनसीबी कार्यालय जाने और उनके छोड़े जाने का वीडियो सामने लाया है।
इन तीनों को छोड़ दिया गया

एनसीबी के अधिकारियों ने जिन तीन लोगों को छोड़ दिया उनमें रिषभ सचदेवा (Rishabh Sachdeva), प्रतिक गाबा (Pratik Gaba), अमीर फर्नीचरवाला (Amir Furniturewala) का नाम शामिल है. उन्होंने बताया कि क्रूज पर एनसीबी ने 11 लोगों को कस्टडी में लिया था।  कस्टडी में लेने के बाद सभी से पूछताछ के लिए उन्हें एनसीबी के दफ्तर लाया गया।  इसके बाद तीनों को दो घंटे में छोड़ दिया गया।  तीनो को छोड़ देने का आदेश किसने दिया ? इन तीनों का फ़ोन क्यों नहीं जब्त किया गया ?

 

जिम्मेदार व्यक्ति ऐसा कैसे बोल सकते है – नवाब मलिक

जिस दिन छापेमारी (Raid) की गई उस दिन समीर वानखेड़े ने 8 से 10 लोगों को  कब्जे में लेने की जानकारी दी थी।  एक जिम्मेदार व्यक्ति ऐसा कैसे बोल सकते है ?

 

एनसीबी  ने किया खुलासा

रिषभ सचदेवा भाजपा युवा मोर्चा के मोहित भारती का साला है।  रिषभ सचदेवा ने राष्ट्रपति से मुलाकात की है और राष्ट्रपति ने उन्हें पुरस्कृत किया है। रिषभ सचदेवा  को दो घंटे में छोड़ दिया गया।  जब सुनवाई चल रही थी तब उसका नाम सामने आया था।  एनसीबी को यह बताना होगा कि इन तीन लोगों को छोड़ने का आदेश किसने दिया। हम मांग करते है कि वानखेड़े तत्काल इसका खुलासा करे।
समीर वानखेड़े का फ़ोन डिटेल्स निकाला जाए

हमारा आरोप है कि रिषभ सचदेवा  को लेकर फ़ोन पर महाराष्ट्र (Maharashtra) और दिल्ली (Delhi) के भाजपा नेताओं से  बातचीत हुई।

 

 

Nawab Malik | BJP नेता का साला कौन ? नवाब मलिक ने किया बड़ा खुलासा

You might also like

Comments are closed.