ईंधन दरवृद्धि के खिलाफ राष्ट्रवादी ने जलाया चौक में चूल्हा

पिंपरी : पुणे समाचार ऑनलाइन –  पेट्रोल, डीजल, घरेलू गैस सिलेंडर के दामों में हो रही रोजाना वृद्धि से आमजनों की कमर टूट गई है। कोरोना, मंहगाई और बेरोजगारी से त्रस्त जनता अब ईंधन दरवृद्धि के चलते आर्थिक संकट से घिरती जा रही है। दरवृद्धि वापस लेकर आमजनों को राहत देने की मांग को लेकर राष्ट्रवादी महिला कांग्रेस की पिंपरी चिंचवड़ इकाई की महिलाओं ने शनिवार को पिंपरी चौक में चूल्हा जलाकर केंद्र सरकार की निंदा की।

केंद्र में भाजपा की नरेंद्र मोदी सरकार के कार्यकाल में आज पेट्रोल, डीजल और घरेलू गैस की कीमतों में रिकॉर्ड उंचाई हासिल की है। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कीमतें बढ़ाने के दौरान कड़ी मेहनत करने वाली महिलाओं के बारे में नहीं सोचा। ‘उज्ज्वला गैस’ योजना के माध्यम से एक करोड़ गैस कनेक्शनों की धोखाधड़ी की घोषणा की गई। यह सच नहीं होगा, यह एक धोखाधड़ीवाली योजना है। जब पूरा देश कोरोना अवधि के दौरान वित्तीय संकट में था, इस सरकार ने चुपके से मुद्रास्फीति में वृद्धि की है। हम पिंपरी चिंचवड़ राष्ट्रवादी महिला कांग्रेस की ओर से इसका विरोध करते हैं, ऐसा राष्ट्रवादी महिला कांग्रेस की शहर अध्यक्ष वैशाली कालभोर ने कहा।

पिंपरी चौक स्थित डॉ बाबासाहेब आंबेडकर स्मारक के पास महिला शहराध्यक्षा वैशाली कालभोर के नेतृत्व में किये गए इस आंदोलन में पूर्व माजी नगसेविका शमीम पठाण, शिक्षा मंडल की पूर्व उपाध्यक्षा लताताई ओव्हाल, राष्ट्रवादी महिला कॉंग्रेस की कार्याध्यक्षा पुष्पा शेलके, पिंपरी विधानसभा अध्यक्षा पल्लवी पांढरे, भोसरी विधानसभा अध्यक्षा मनिषा गटकल, चिंचवड विधानसभा अध्यक्षा संगिता कोकणे, नगरसेविका सुलक्षणा धर, निकीता कदम, गिता मंचरकर, उषा काले, शहर संगठक सुप्रिया भिंगारे, शहर उपाध्यक्षा मिना कोरडे, दिपाली देशमुख, अर्चना राऊत, माहेश्वरी परांडे, भोसरी महिला कार्याध्यक्षा संगिता आहेर, प्रभाग अध्यक्षा मंगल ढगे, फैमिदा शेख, रुपाली भाडाले, स्वप्नाली असवले, ज्योती निंबालकर, संगिता जाधव, श्वेता हिमाणी, मनिषा जठार, सुंगधा पाषाणकर, प्रतिभा दोरकर, सिमा हिमाणे, लता पिंपले, उषा चिंचवडे, अश्विनी पोल, सविता धुमाल आदि शामिल हुए।

You might also like

Comments are closed.