Nandurbar Police | महाराष्ट्र में नंदुरबार जिला पुलिस दल क्राइम इन्वेस्टीगेशन में अव्वल

नंदुरबार : Nandurbar Police | पुलिस महासंचालक कार्यालय (Director General of Police Office) द्वारा 2021 में राज्य के सभी पुलिस कर्मियों की दोषसिद्धि की विश्लेषणात्मक जांच की गई है। इसमें नंदुरबार जिला पुलिस वर्ग (Nandurbar Police) में अपराधियों को सजा देने के प्रमाण में 92093 % है। इसलिए राज्य में नंदुरबार जिला पुलिस दल (Nandurbar District Police Team) अव्वल साबित हुआ है। इसका पत्र नंदुरबार पुलिस अधीक्षक कार्यालय (Nandurbar Superintendent of Police Office) को प्राप्त हुआ है।

 

अपराध दोषसिद्धी अर्थात आरोपी को दोषी साबित कर सजा होने तक के लक्ष्य को पूरा करने का काम करने के लिए नियोजन बद्ध तरीके से काम करने के लिए विशेष तरीका अपनाया गया। इसमें पुलिस अधीक्षक पी. आर . पाटिल (Superintendent of Police P.R. Patil) के सुझाव के अनुसार नंदुरबार पुलिस दल (Nandurbar Police) के माध्यम से 5 कलमी कोर्ट कमिटमेंट (5 Kalmi Court Commitment) जैसे उपक्रम और विशेष उपाययोजना चलाने की शुरुआत होने से लेकर अतिगंभीर, गंभीर मामलों के आरोपियों को सजा देने के प्रमाण में बढ़ोतरी का दावा किया गया है।

 

इस संदर्भ में दी गई जानकारी के अनुसार नंदुरबार जिले में क्राइम सिद्धि व अपराध प्रतिबंध व उसका खुलासा करने के लिए विविध उपक्रम चलाए जाते हैं।

 

नंदुरबार जिला पुलिस अधीक्षक पी आर पाटिल व अपर पुलिस अधीक्षक विजय पवार (Additional Superintendent of Police Vijay Pawar) के मार्गदर्शन में पुलिस दल के माध्यम से जांच समय पर करना, समन जारी करना, आदि को लेकर पुलिस थाने के प्रभारी व संबंधित अंमलदार को दैनिक ब्योरा लेना, पुलिस अधिकारी, अंमलदार व सरकारी वकील को गवाह आधि से संपर्क व समन्वय रखना, पुलिस साक्षीदार व जांच अधिकारी से प्रतिदिन इंटरव्यू लेना, उत्कृष्ट जांच व क्राइम साबित करने पर प्रोत्साहन और  इनाम देने, जैसे उपक्रम चलाए जाते हैं।  नंदुरबार (Nandurbar) जिले में जितने भी केस आए हैं उनमें से 92.93 % केस में सजा हुई है।

 

Nashik Police | पुलिस चौकी में चल रही थी शराब की पार्टी! नशे में धुत पुलिस ने एक व्यक्ति को पीटा, मची खलबली

Pune Crime | डेढ हजार रुपये वापस न देने पर पत्थर से कुचलकर युवक की हत्या; डेंगले पुल के नीचे नदी किनारे की घटना, शिवाजीनगर पुलिस ने एक को किया गिरफ्तार

You might also like

Comments are closed.