मावल में जब्त एमडी ड्रग्ज का मुंबई कनेक्शन उजागर

पनवेल से एक और आरोपी गिरफ्तार; पुणे ग्रामीण पुलिस के एलसीबी की कार्रवाई
पिंपरी। मेफेड्रोन (एमडी) ड्रग्ज के साथ दो लोगों को पुणे ग्रामीण पुलिस की एलसीबी (लोकल क्राइम ब्रांच) की टीम ने धरदबोचा था। मावल तालुका के कामशेत इलाके में सोमवार को की गई इस कार्रवाई में आरोपियों से 67.37 ग्राम मेफेड्रोन के साथ कुल 6 लाख 68 हजार 100 रुपए का माल बरामद किया गया। अब इस मामले का मुंबई कनेक्शन सामने आया है। एलसीबी की टीम ने इस मामले में पनवेल से हसन बकरहुसेन सय्यद (32, निवासी पलस्प, पनवेल, रायगड) नामक एक और आरोपी को गिरफ्तार किया है। उसके अंतरराष्ट्रीय ड्रग्ज माफिया से जुड़े रहने की संभावना जताई जा रही है।
एलसीबी के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक पद्माकर घनवट ने बताया कि, इस मामले में पहले शिवाजी मारुती कडू (32, निवासी कुरवंडे, मावल, पुणे) व सोमनाथ वसंत बालगुडे (30, निवासी पाथरगांव, मावल, पुणे) को गिरफ्तार किया गया है। ये दोनों सोमवार को कामशेत परिसर में एक कार (एमएच 14 जीएच 1992) व दोपहिये (एमएच 14 एचजी 9318) को राह में रोककर खड़े थे। पुलिस ने शक के आधार पर उनसे पूछताछ की तो वे घबरा गए और टालमटोल करने लगे। जब सोमनाथ बालगुडे की तलाशी ली गई तो उसके पास से मेफेड्रोन ड्रग्ज की 15 पुडिया मिली। पूछताछ में उसने ये पुड़िया शिवाजी कड़ू से 30 हजार रुपए में खरीदने की जानकारी दी।
पुलिस ने जब शिवाजी कड़ू की कार की तलाशी ली गई तब उसमें 52.20 ग्राम मेफेड्रोन, एक मोबाईल, इलेक्ट्रॉनिक वजन काटा पाया गया। सोमनाथ बालगुडे के पास से 15.17 ग्राम मेफेड्रोन बरामद हुआ है। दोनों के पास से 1 लाख 34 हजार 740 रुपए की 67.37 ग्राम मेफेड्रोन और 5 लाख 33 हजार 360 किंमतीची कार, मोटारसायकल, वजनकाटा, मोबाईल व नकदी कुल 6 लाख 68 हजार 100 रुपये का माल जब्त किया गया। उनके खिलाफ कामशेत पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया है। पुलिस कस्टडी में की गई पूछताछ में आरोपियों को हसन सय्यद ड्रग्ज की सप्लाई करने की बात पता चली। उसके पनवेल में आने की खबर मिलने के बाद पुलिस टीम ने जाल बिछाकर हसन को गिरफ्तार कर लिया। उसके अंतरराष्ट्रीय ड्रग्ज माफियाओं से सम्बंध रहने की संभावना जताई जा रही है। उसकज गिरफ्तारी से ड्रग्ज का बड़ा रैकेट सामने आने के आसार हैं। इस पूरी कार्रवाई को एलसीबी के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक पद्माकर घनवट, सहायक निरीक्षक पृथ्वीराज ताटे, सहायक उपनिरीक्षक विजय पाटील, प्रकाश वाघमारे, सुनील जावले, महेश गायकवाड, निलेश कदम, सचिन गायकवाड, काशिनाथ राजापुरे की टीम ने अंजाम दिया।
You might also like

Comments are closed.