समय से पहले दस्तक देने की तैयारी में मानसून, कुछ घंटे में तरबतर होगी दिल्ली

ऑनलाइन टीम. नई दिल्ली : मानसून पर टकटकी लगाए रहने वाले देश के किसानों के लिए अच्छी खबर है। इस बार सामान्य से अच्छा रहने का अनुमान  है। साथ ही कहा कि इस साल दक्षिण-पश्चिम मानसून के केरल पहुंचने की जो तारीख बताई गई है, उस अनुमान में चार दिन कम या ज्यादा हो सकते है। अनुमान के मुताबिक केरल में दक्षिण पश्चिम मानसून इस बार 31 मई को पहुंच सकता है, जबकि सामान्य तौर पर इस प्रदेश में मानसून एक जून को आता है।

भारतीय मानसून क्षेत्र में मानसूनी बारिश दक्षिणी अंडमान के समुद्र से शुरू होती है और मानसूनी हवाएं उत्तर-पश्चिम से होती हुई बंगाल की खाड़ी तक जाती हैं। मानसून की सामान्य तिथियों को देखते हुए दक्षिण-पश्चिम मानसून में प्रगति सटीक होगी और 22 मई के करीब मानसून प्रगति करते हुए अंडमान के समुद्र के ऊपर से गुजरेगा। अरब सागर के ऊपर चक्रवाती तूफान बनने की आशंका को देखते हुए 20 मई से बंगाल की खाड़ी पर मानसून बेहद मजबूत हो जाएगा। 21 मई को दक्षिणी बंगाल की खाड़ी और अंडमान निकोबार द्वीपसमूह को मानसून कवर कर लेगा।

इसके पहले अरब सागर में उठ रहे चक्रवाती तूफान के कारण समुद्र तटीय प्रदेशों और उससे सटे राज्यों में तेज बारिश हो सकती है। तूफान 18 मई को संभावित है। इससे दो-तीन दिन वैसे ही बारिश की स्थिति रहेगी। इसके बाद प्री-मानसून की बारिश  21 मई से बंगाल की खाड़ी और अंडमान निकोबार द्वीपसमूह में हो सकती है। इस वजह से मानसून 21 मई को अंडमान निकोबार द्वीपसमूह में पहुंच सकता है, ऐसा माना जा सकता है।  आइएमडी ने चेतावनी जारी करते हुए कहा कि अरब सागर में दबाव 17 मई को ‘बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान’ में बदल सकता है और एक दिन बाद गुजरात तट को पार कर सकता है। वहीं, चक्रवात के चलते केरल के कई हिस्सों में भारी बारिश और आंधी तूफान की स्थिति बनी हुई है। कोच्चि में अचानक बाढ़ से हालात हो गए हैं। कई जगहों पर जलभराव हो गया है। चेलेनम, कन्नमाली, मनस्सेरी और एडवानक्कड़ में घरों में पानी घुस गया है।

भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने दिल्ली, हरियाणा और पश्चिमी यूपी के कुछ हिस्सों में आने वाले घंटों में 20 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने के साथ तेज बारिश का अनुमान लगाया गया है। इन क्षेत्रों में दिल्ली, हरियाणा के फारुख नगर, झज्जर, पलवल, होडल, मानेसर, गुरुग्राम, फरीदाबाद, तिजारा और पश्चिमी यूपी के कुछ जिले शामिल हैं।

You might also like

Comments are closed.