किसानों को मोदी 2.0 सरकार का और एक तोहफा!

नई दिल्ली : समाचार ऑनलाइन – मोदी 2.0 सरकार किसानों को और एक तोहफा देने जा रही है। इस सरकार ने किसानों की आय को दुगना करने के लक्ष्य की ओर बड़ा कदम उठाया है। मिली जानकारी के मुताबिक, सराकर कुसुम योजना के तहत ज्यादा से ज़्यादा किसानों को इसका फायदा मिले इसीलिए इसमें बदलाव करने जा रही है। ऊर्जा मंत्रालय सोलर सेल्स और मॉड्यूल मैन्युफैक्चरर के लिए कैपिटल सब्सिडी स्कीम ला रही है। इस स्कीम में मैन्युफैक्चरर को कुल लागत का 30 फीसदी कैपिटल सब्सिडी दी जाएगी।

बता दें कि कुसुम (KUSUM) योजना के तहत किसानों को खेतों में सिंचाई के लिए सोलर पंप मुहैया कराया जाएगा। कुसुम योजना का ऐलान केंद्र सरकार के आम बजट 2018-19 में किया गया था। मोदी सरकार ने किसान उर्जा सुरक्षा और उत्थान महाअभियान कुसुम (KUSUM) योजना बिजली संकट से जूझ रहे इलाकों को ध्यान में रख शुरू की गई है। वित्त मंत्रालय ने 10 हजार करोड़ रुपये के फंड को मंजूरी दे दी है। सोलर पंप के जरिए सिंचाई करने वाले किसानों को इसका सीधा फायदा मिलेगा। सोलर मॉड्यूल यूनिट के लिए 30 फीसदी तक सरकार सब्सिडी देगी।

इस योजना के मुतबिक, किसानों को दो तरह से फायदा पहुंचाएगी। एक तो उन्हें सिंचाई के लिए फ्री बिजली मिलेगी और दूसरा अगर वह अतिरिक्त बिजली बना कर ग्रिड को भेजते हैं तो उसके बदले उन्हें कमाई भी होगी। किसी किसान के पास बंजर भूमि है तो वह उसका इस्तेमाल सौर ऊर्जा उत्पादन के लिए कर सकता है। इससे उन्हें बंजर जमीन से भी आमदनी होने लगेगी।

You might also like

Comments are closed.