माथाडी मजदूरों को मिलेगी मुफ्त चिकित्सीय सेवा

हेल्थ कार्ड भी मिलेंगे: इरफ़ान सय्यद की घोषणा

पिंपरी : समाचार ऑनलाईन – गरीब माथाडी मजदूरों और उनके परिवारों के लिए पुणे और पिंपरी चिंचवड़ में मुफ्त चिकित्सा सेवा मुहैया कराई जाएगी। इसके लिए मुफ्त चिकित्सा केंद्र शुरू किये जायेंगे। इस उपक्रम में तकरीबन सात हजार मजदूरों व उनके परिवारों की मुफ्त स्वास्थ्य जांच की जाएगी और जून माह में महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री एकनाथ शिंदे के हाथों मजदूर हेल्थ कार्ड बांटे जाएंगे। शुक्रवार को एक संवाददाता सम्मेलन में इसकी घोषणा करते हुए महाराष्ट्र मजदूर संगठन के अध्यक्ष इरफ़ान सय्यद ने यह दावा भी किया कि इस तरह का उपक्रम पूरे राज्य में पहली बार चलाया जा रहा है।
माथाडी मजदूरों और उनके परिवारों का स्वास्थ्य बढ़िया रहे और गरीबी के कारण वे चिकित्सा से वंचित न रह जाय इसके लिए यह उपक्रम चलाया जा रहा है। इसमें माथाडी के साथ ही असंगठित मजदूरों को भी शामिल किया जाएगा। उन्हें प्राथमिक चिकित्सीय सेवा मुफ्त मिलेगी और आगे का इलाज नाममात्र शुल्क में उपलब्ध कराया जाएगा। अगर कंपनियों का सीएसआर फंड मिला तो पूरा उपचार मुफ्त में कराया जाएगा। यह उपक्रम पहले केवल पुणे जिले में चलाया जाएगा। अच्छी तवज्जो मिली तो इसकी अमलबाजी पूरे राज्य में की जाएगी, यह मनोदय भी उन्होंने जताया।
मुफ्त उपचार केंद्र और हेल्थ कार्ड के लिए पिंपरी चिंचवड शहर के सभी माथाडी मजदूर  9960633888 और 8888657593 इन मोबाईल नँबरों या चिंचवड शाहूनगर स्थित महाराष्ट्र मजदूर संगठन के कार्यालय से संपर्क करने की अपील इरफान सय्यद ने की है। मुफ्त उपचार केंद्र रूपीनगर, चिखली, म्हेत्रेबस्ती, नासिकफाटा, संत तुकारामनगर, उर्से, नाणेकरवाडी में शुरू होंगे। इसमें मोरया क्लिनिक, सत्यम क्लिनीक, साई क्लिनीक, कृष्णा क्लिनीक, पवना हॉस्पिटल तलेगांव दाभाडे, आयकॉन हॉस्पिटल, युनिकेअर हॉस्पिटल, ओमसाई हॉस्पिटल का सहयोग मिल रहा है, यह भी उन्होंने बताया।
You might also like

Comments are closed.