Marathi boards on Shop | ‘कोरोना काल में किए गए कामों की सराहना न्यूयॉर्क से लेकर अदालतों तक में हुई’, आलोचकों को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दिया जवाब

मुंबई : Marathi boards on Shop | भारतीय जनता पार्टी हमेशा  शिवसेना, महाविकास आघाड़ी और मुंबई मनपा (बीएमसी)  की आलोचना करती रहती है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने आलोचकों को आज करारा जवाब दिया है। सीएम उद्धव ठाकरे ने आज बीएमसी (BMC) की व्हाट्सएप चैटबोट सेवा (whatsapp chatbot service) का लोकार्पण किया। इस मौके पर विपक्ष पर मुख्यमंत्री ने  निशाना साधा। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा है कि ऐसे कई लोग हैं जो खुद तो कोई काम (Marathi boards on Shop) नहीं करते हैं लेकिन दूसरों पर उंगली जरूर उठाते हैं। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने यह भी कहा कि न्यूयॉर्क (newyork) से लेकर अदालतों तक हर जगहों पर कोविड (covid-19) के संकट में किए गए कामों की सराहना की।

आगे मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा, ‘अक्सर ऐसा होता है कि बिना काम किए कई लोग बोलनेवाले होते हैं। कुछ ऐसे भी हैं जो काम तो करते हैं लेकिन बोलते नहीं हैं। उसे कहा जाता है कि जंगल में मोर नाचा किसने देखा। इसलिए हम पूरी दुनिया को दिखा रहे हैं कि हम क्या कर रहे हैं। हमारा काम बहुत पारदर्शी है। इसमें  छिपाने के लिए कुछ भी नहीं है। आपकी सेवा करते समय कुछ छुपाना ही क्यों है। जो कुछ भी है वह खुला है।

भले ही हम यह काम सराहना के लिए नहीं कर रहे हैं, लेकिन हमें इसे एक कर्तव्य के रूप में करना होगा। कल इसकी कितनी सराहना होगी, इसकी उम्मीद नहीं है, लेकिन अगर कुछ गलत हो जाता है, तो हर कोई मनपा के नाम पर हंगामा करने के लिए खाली बैठे है। अगर कुछ होता है तो नगरसेवक क्या करते हैं? मेयर क्या कर रहे हैं? आयुक्त क्या कर रहे हैं? यह सब ठीक है .. लेकिन मुझे बताओ कि आप क्या कर रहे हो। खुद कुछ नहीं करना है और मनपा क्या कर रही है यह पूछना आसान है। मुख्यमंत्री ने कहा यह सब पूछने के लिए अकल की जरूरत नहीं होती है, ऐसा मुझे लगता है।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे द्वारा बीएमसी व्हाट्सएप चैट बॉट सेवा का समर्पण

बृहन्मुंबई नगर निगम की ‘व्हाट्सएप चैट बॉट’ सुविधा शुरू की गई है। इस मौके पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा, ”एक गलत धारणा है कि सरकारी और प्रशासनिक काम के बारे में बोलते समय तिलगुड दिए बिना काम नहीं होता है’ लेकिन आज का उपक्रम उसे झुठलानेवाला है। नागरिकों को हमेशा लगता है कि मेरी महानगरपालिका, मेरी सरकार को मेरे साथ आसानी से संवाद करना चाहिए। नागरिकों को वह सुविधा उपलब्ध कराना आज की बात है। वोट मांगने वाले लोग वोट पाकर तन जाते हैं, लेकिन जो लोगों के लिए काम करना चाहते हैं वे हमेशा विनम्र होते हैं। हमारा मुंबई, मेरी मुंबई देश की नंबर एक मनपा है जिसने लोगों को घर बैठे 80 से अधिक सुविधाएं प्रदान की हैं।

You might also like

Comments are closed.