Maratha Reservation | उद्धव ठाकरे, शरद पवार के घर पर मराठा आरक्षण की मांग के लिए ‘लॉन्ग मार्च’ (वीडियो)

मुंबई : राज्य की ठाकरे सरकार (Thackeray government) मराठा आरक्षण (Maratha Reservation) देने की इच्छुक नहीं है, सरकार को जगाने के लिए मराठा क्रांती मोर्चा (Maratha Revolutionary Front) की ओर से ‘शिवनेरी से मुंबई’ ऐसा लॉन्ग मार्च निकाला जाएगा। खास बात यह है कि यह लॉन्ग मार्च मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे  (CM Uddhav Thackeray) और राष्ट्रवादी प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) के घर पर जानेवाली है, यह जानकारी मराठा क्रांती मोर्चा के  (Maratha Reservation)  समंवयक रमेश केरे पाटिल (Ramesh Kere Patil) ने दी है।

 

 

राज्य के महाविकास आघाडी सरकार (Mahavikas Aghadi Government) अर्थात प्रस्थापित मराठा की सरकार है। इसलिए सर्वसामान्य मराठों को आरक्षण (Maratha Reservation) देने को लेकर सरकार लापरवाही कर रही है। अब सरकार को जगाने के लिए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के वर्षा बंग्ले और शरद पवार के सिल्वर ओक साथ ही ऊर्जा मंत्री नितीन राऊत (Nitin Raut) के घर पर लॉन्ग मार्च निकालने का फैसला लिया है, यह जानकारी रमेश केरे ने फेसबुक लाइव के माध्यम से दी है।

 

साथ ही इस बारे में सारी योजना बन चुकी है और तारीख की घोषणा भी जल्द ही की जाएगी। इस लॉन्ग मार्च के लिए कई संगठन से चर्चा हो चुकी है। इसके लिए अगले 8 दिनों में राज्यव्यापी बैठक होगी। मराठा आरक्षण (Maratha Reservation) के मुद्दे पर राज्य (State Government) और केंद्र सरकार (Central Government) एक दूसरे पर ठीकरा फोड़ रहे हैं, ऐसे में अब मराठा आरक्षण के मांग के लिए सड़क पर उतरने की बात रमेश केरे ने कही है।

 

 

Restrictions in Maharashtra | महाराष्ट्र में प्रतिबंध और सख्त होंगे क्या? अजित पवार ने स्पष्ट कहा…

Marathi boards on Shop | ‘कोरोना काल में किए गए कामों की सराहना न्यूयॉर्क से लेकर अदालतों तक में हुई’, आलोचकों को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दिया जवाब

You might also like

Comments are closed.