यूपी को कई तोहफे…मोदी ने कहा – आवास योजना से जुड़े हैं करोड़ों के सपने, हम समझ सकते हैं खुशी

लखनऊ. ऑनलाइन टीम : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को योगी के उतर प्रदेश को एक साथ कई सौगातें दीं। पीएम मोदी ने कहा कि बीते चार वर्षों में उत्तर प्रदेश की सरकार ने केंद्र सरकार की योजनाओं को जिस तेजी से आगे बढ़ाया है, उससे उस प्रदेश को एक नई पहचान भी मिली है और नई उड़ान भी मिली है। हमारा प्रयास है कि गांव में सामान्य मानवी के लिए भी जीवन उतना ही आसान हो जितना बड़े शहरों में है।

प्रधानमंत्री आवास योजना को शौचालय, बिजली और पानी जैसी मूलभूत सुविधाओं से भी जोड़ा जा रहा है। दूसरी तरफ, राजनीतिक जानकार मानते हैं कि सत्ताधारी बीजेपी पूरी गंभीरता के साथ पंचायत चुनाव की जीतने की रूपरेखा तैयार कर रही है और साथ ही गांव में जद्दोजहद तेज कर दी है। इसी के तहत पीएम नरेंद्र मोदी ने तोहफों की झड़ी लगाकर प्रदेश के लोगों का मन जीत लिया है। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में होने जा रहे पंचायत चुनाव को 2022 की लड़ाई का सेमीफाइनल माना जा रहा है। ऐसे में सभी राजनीतिक पार्टियां पंचायत चुनाव में जीत का परचम फहराने की कोशिशों में अभी से ही लग गई हैं।

यह था हमारा लक्ष्य : उन्होंने कहा कि देश ने आजादी के 75 वर्ष पूरे होने तक हर गरीब परिवार को पक्का घर देने का लक्ष्य तय किया था। बीते वर्षों में लगभग दो करोड़ घर सिर्फ ग्रामीण इलाकों में बनाए गए हैं। अकेले प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत भी करीब सवा करोड़ घरों की चाबी लोगों को दी जा चुकी है। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यूपी के लाभार्थी से बात की।  पीएम ने कहा कि आज योगी सरकार की सक्रियता का परिणाम है कि यहां आवास योजना के काम की गति भी बदल गई और तरीका भी बदल गया है। यूपी में करीब 22 लाख ग्रामीण आवास बनाए जाने हैं। इनमें से 21.5 लाख घरों को बनाए जाने की स्वीकृति भी दी जा चुकी है।

ऐसी है यह योजना :  बता दें कि पीएमएवाई-जी के लाभार्थियों को घर के अलावा महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (एमजीएनआरईजीएस) के अंतर्गत अकुशल कामगार श्रेणी के तरह भी मदद दी जाती है। साथ ही शौचालय निर्माण के लिए स्वच्छ भारत मिशन-ग्रामीण (एसबीएम-जी), एमजीएनआरईजीएस या अन्य श्रोतों से 12,000 रुपये की आर्थिक मदद दी जाती है। इस योजना को केंद्र सरकार और राज्यों तथा केंद्र शासित सरकारों की अन्य योजनाओं के साथ भी जोड़ा गया है। इसके तहत लाभार्थी को एलपीजी कनेक्शन का लाभ देने के लिए उज्ज्वला योजना, बिजली कनेक्शन, और सुरक्षित पेयजल आपूर्ति के लिए जल जीवन मिशन इत्यादि को इसमें शामिल किया गया है।

खातों में पैसे ट्रांसफर : इसी क्रम में प्रधानमंत्री  मोदी ने उत्तर प्रदेश में प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के 6.1 लाख लाभार्थियों के बैंक खातों में बुधवार को 2,691 करोड़ रुपये की धनराशि का डिजिटल ट्रांसफर किया। पीएम मोदी की ओर से वर्ष 2020-21 के अंतर्गत प्रधानमंत्री आवास योजना के 5.3 लाख लाभार्थियों को आवास निर्माण की पहली किस्त तथा 80 हजार लाभार्थियों को दूसरी किस्त की धनराशि ट्रांसफर की गई है।  मोदी ने कहा कि इस पूरे अभियान की सबसे खास बात यह है कि जितने भी घर बन रहे हैं, सबके लिए पैसा सीधे गरीबों के बैंक खातों में दिया जा रहा है। किसी भी लाभार्थी को तकलीफ न हो, भ्रष्टाचार का शिकार न होना पड़े।

रफ्तार और तेज होगी : पीएम मोदी ने कहा कि एक तरफ अपराधियों और दंगाइयों पर सख्ती और दूसरी तरफ कानून व्यवस्था पर नियंत्रण। एक तरफ अनेक एक्सप्रेस वे का तेजी से चल रहा काम, तो दूसरी तरफ एम्स जैसे बड़े संस्थान। मेरठ एक्सप्रेस वे से लेकर बुंदेलखंड गंगा एक्सप्रेस वे तक उत्तर प्रदेश में विकास की रफ्तार तेज करेंगे।

You might also like

Comments are closed.