सिर्फ दो दिन में मनपा ने वसूले 2 करोड़

पुणे: कोरोना काल में अभय योजना चलाने के साथ ही बकायेदारो के प्रॉपर्टी के सातबारा पर भार देकर बड़े पैमाने पर बकाया वसूला गया। अब इसके बाद पानी बिल वसूलने के लिए मोर्चा निकाला है। पानी बिल वसूलने के लिए नोटिस और कारवाई की अभियान चलाकर दो दिन में दो करोड़ रुपये वसूले गए हैं।

 शहर में लगभग 40 हज़ार प्रॉपर्टी को मीटर के द्वारा जलापूर्ति की जाती है। इसमे प्रमुख रूप से बड़ी सोसायटी है। और बहुत सारे व्यवसायी प्रॉपर्टी हैं। साथ ही पुलिस, बीएसएनएल, रेलवे, सरकारी कार्यालय, महावितरण जैसे सरकारी कार्यालयो का भी समावेश है। इन पर बीते कई वर्षो से 500 करोड़ से अधिक का बकाया है। इसमे गलत प्रविश्टियाँ, गलत मुल्यांकन और ऐसे कई कारणो की वजह से वसूली में दिक्कत आ रही है।लेकिन किसी भी तरह की तकनीकि गलतियाँ न होने के बाद भी यह रकम बहुत बड़ी है। इसी पृष्ठभूमि पर जलापूर्ति विभाग ने ऐसे लोगो को नोटिस भेजने की शुरुआत की है। ऐन गर्मी में जलापूर्ति बंद करने की चेतावनी दी है। हालांकि इस चेतावनी का असर दिख रहा है। सिर्फ दो दिनो में ही करोड़ो की बकाया राशि वसूल हो गई है।

इस संदर्भ में बात करते हुए जलापूर्ति विभाग के अधीक्षक अभियंता अनिरुद्ध पावसकर ने कहा कि पानी की बकाया राशि बहुत है। इसे वसूलने कए लिए व्यापक अभियान शुरू किया गया है। इस अभियान को और तेज कर कार्रवाई की संख्या बढ़ाई जाएगी। पिछले दो दिनो में 2 करोड़ रुपए वसूले गए हैं।

You might also like

Comments are closed.