किसान आंदोलन में भाग लेने वाली महाराष्ट्र की सीताबाई तडवी की मौत, कई आंदोलनों में निभा चुकी है अपनी भूमिका

नंदुरबार : ऑनलाइन टीम – पिछले दो महीनों से दिल्ली में चल रहे कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन गणतंत्र दिवस पर हिंसक रूप ले लिया। किसानों के ट्रैक्टर मार्च के दौरान कई इलाकों में हिंसा भड़की। ट्रक में तोड़फोड़ हुई। इस दौरान सैकड़ों प्रदर्शनकारियों ने उत्पात मचा दिया। इस मामले में अब तक 22 एफआईआर दर्ज की गई हैं। जबकि 200 लोगों को गिरफ्तार किया जा चका है।

इसके अलावा किसान नेताओं के खिलाफ भी अपराध दर्ज किए गए हैं। इस बीच एक चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है। दरअसल नंदुरबार जिले के आंबाबारी निवासी सिताबाई तडवी (56) किसान आंदोलन के लिए 16 जनवरी से दिल्ली में थीं। वह 26 जनवरी को किसान आंदोलन परेड में शामिल हुई थीं। इसके बाद वे रात में दिल्ली से नंदुरबार आ रही थी। इस दौरान जयपुर स्टेशन पर ट्रेन का इंतजार करते समय वह अचानक बीमार पड़ गया और सुबह लगभग 5 बजे उसकी मौत हो गई। कहा जाता है कि अत्यधिक ठंड के कारण उनकी मौत हो गई।

बता दें कि सीताबाई तडवी इससे पहले भी विभिन्न आंदोलन में भाग ले चुकी है। उन्होंने लोक संघर्ष मोर्चा के उलगुलान आंदोलन में आदिवासियों को न्याय का अधिकार दिलाने के लिए लड़ाई लड़ी, वन भूमि के लिए आंदोलन किया। अब उनकी मौत की खबर से पुरे परिवार और समाज में शोक है।

You might also like

Comments are closed.