Maharashtra | ओबीसी आरक्षण के बिना जि. प. उपचुनाव ; चुनाव आयोग ने जारी किया कार्यक्रम 

मुंबई, 14 सितंबर : Maharashtra | ओबीसी आरक्षण बहाल किये बिना राज्य के लोकल बॉडीज का कोई भी चुनाव नहीं होगा।  यह रुख सरकार की तरफ से लगातार दिखाया जा रहा है।  जुलाई में स्थगित किये गए नागपुर, अकोला, वाशिम, धुले और नंदुरबार इन पांच जिलों (Maharashtra) के जिला परिषद् व  इसके तहत आने वाले पंचायत समिति (Panchayat committee) और पालघर जिला परिषद् पंचायत समिति का उपचुनाव ओबीसी आरक्षण (OBC reservation) के बिना आयोजित करने की घोषणा राज्य चुनाव आयोग ने की है।  इस उपचुनाव के लिए 5 अक्टूबर को वोटिंग होगी और 6 अक्टूबर को रिजल्ट आएगा।

कोरोना का प्रतिबंध उपचुनाव पर लागू नहीं होना का फैसला दो दिन पहले सुप्रीम कोर्ट दवारा दिए जाने के बाद चुनाव आयोग ने सोमवार को उपचुनाव कार्यक्रम की घोषणा की है। , ऊपर के इन पांच जिला परिषद् के उपचुनाव 9 जुलाई को चुनाव आयोग ने स्थगित कर दिया था. सोमवार को चुनाव आयुक्त यू पी एस मदान ने चुनाव की घोषणा की।
आरक्षण के बिना कोई चुनाव नहीं होने देने की बात भाजपा नेताओं ने कही थी।  लेकिन अब सभी सीटों पर उपचुनाव ओपन गुट से हो रहा है।  सुप्रीम कोर्ट का फैसला छह जिला परिषद् के संदर्भ में होने का दावा अब सरकार की तरफ से की जा रही है।
इस तरह है चुनाव कार्यक्रम 
पालघर सहित सभी जगहों पर 21 सितंबर को वैध उम्मीदवारों की सूची जारी की जाएगी।  27 सितंबर तक आवेदन वापस लिए जा सकते है।  5 अक्टूबर को वोटिंग होगी और 6 अक्टूबर को रिजल्ट आएगा।  जिला परिषद् के 85 और पंचायत समिति के 144 सीटों के लिए उपचुनाव होगा।
पालघर में उपचुनाव 
ओबीसी आरक्षण के बिना पालघर जिला परिषद् और उसके तहत आने वाले पंचायत समिति के सीटों के लिए उपचुनाव होगा।  यहां 15 से 20 सितंबर के दौरान उम्मीदवार नामांकन करेंगे।  21 को नामांकन की छंटाई होगी।  अगले चरण में अन्य जिला परिषद् व इसके तहत आने वाले पंचायत समिति का उपचुनाव होगा।

 

Maharashtra | महिला सुरक्षा को लेकर मुख्यमंत्री की महत्वपूर्ण बैठक समाप्त; गृह मंत्री ने की महत्वपूर्ण घोषणा 

You might also like

Comments are closed.