महाराष्ट्र : मुंबई में लोकल कब शुरू होगा ? ; महापौर किशोरी पेडणेकर ने बताया……..

 

मुंबई, 21 जून : कोरोना की दूसरी लहर में हॉटस्पॉट रहे मुंबई की स्थिति फिर से पटरी  परे लौटती नज़र आ रही है। मुंबई में हर दिन मिल रहे नए मरीजों की संख्या में भारी कमी आई है।  खास बात यह है कि मुंबई की पॉजिटिविटी रेट भी कम हुई है।  मुंबई में पॉजिटिविटी रेट कम होने से बहुत हद तक प्रतिबंधों में छूट दी गई है। लेकिन मुंबई की लाइवलाइन लेवल से सफर करने वाले आम नागरिकों को अब तक इसकी परमिशन नहीं दी गई है।  इस संदर्भ में महापौर ने अब अपना रुख साफ किया है।  उन्होंने कहा है कि तीसरी लहर आती है तो यह सबके लिए भयानक होगा।  यह चेतावनी महापौर ने विशेषज्ञों की जानकारी के आधार पर दी है।

उन्होंने कहा कि मनपा ने हर वार्ड में दो फ्लाइंग स्क्वाइड की नियुक्ति की है।  कही भी वेक्सीनेशन शुरू होने की जानकारी मिलने पर वहां का  दौरा करना, वहां दिए जा रहे वैक्सीन का एक वाइल्स कब्जे में लेना,  वेक्सीनेशन कौन कर रहा है इसकी जानकारी  मनपा के हर वार्ड में होनी चाहिए।  सीरम इंस्टिट्यूट को पत्र लिखा गया है।  हीरानंदानी सोसायटी को दिए गए वैक्सीन की एक वाइल्स सीरम के पास भेजा गया है।  यह वैक्सीन है क्या ? यह सुनिश्चित किया जा रहा है।  फ़िलहाल मनपा और पुलिस जांच कर रही है।  कांदिवली मामले को लेकर लोग जागरूक हो गए है।  जो वैक्सीन दी जा रही है उसके लिए मनपा से परमिशन ली गई है या नहीं ? इसे लेकर नागरिक पड़ताल करे।
मनपा के अतिरिक्त आयुक्त सुरेश काकाणी ने इस संबंध में मनपा का रुख साफ किया है।  उन्होंने बताया कि रविवार को भी मुंबई में 500 से 600 मरीज मिल रहे है।  मरीजों की संख्या कम होनी चाहिए।  धारावी में कोई मरीज नहीं है।  वर्ली में रविवार को एक मरीज मिला।  इसका मतलब है मुंबई में संक्रमण कम हुआ है।  मरीजों की संख्या कम होने पर विचार कर आम नागरिकों को लोकल से सफर की परमिशन देने पर विचार करना होगा।  लेकिन अन्य लोगों की जान आफत में आये ऐसा कुछ भी न तो मनपा करेगी और न राज्य सरकार।  यह जानकारी महापौर किशोरी पेड़णेकर ने दी है।
तीसरी लहर सबसे भयानक होगी 
आज हर नगरसेवक एक वार्ड में एक केंद्र हो इसके लिए दो केंद्र बनाये गए है. नगरसेवकों के केंद्र में वैक्सीन देने में कोई दिक्कत नहीं है।  जिन सोसायटी में वेक्सीनेशन शिबिर का आयोजन करना है उन्हें मनपा से संबंधित जानकारी लेनी होगी।  विशेषज्ञों का कहना है कि तीसरी लहर आई तो सबसे भयानक होगी। अब इस संक्रमण का रूप बदल रहा है।  इसलिए हर परिवार सतर्क रहे। अगर नागरिक सतर्क रहे तो हमने जिस तरह से दूसरी लहर को मात देने में सफलता पाई है उसी तरह तीसरी लहर को भी मात दे पाएंगे।
You might also like

Comments are closed.