महाराष्ट्र : सुशांत सिंह की आत्महत्या या हत्या? साल भर बाद भी रहस्य कायम 

 
मुंबई , 14 जून : अभिनेता सुशांतसिंह राजपूत की मौत की जांच को लेकर बिहार वर्सेज महाराष्ट्र का मैच देखने को मिला था।  दूसरी तरफ सोशल मीडिया में मुंबई पुलिस के खिलाफ बदनामी का षड़यंत्र रचा गया।  आरोप-प्रत्यारोप में राजनीति गर्माई। लेकिन एक वर्ष के बाद भी सुशांत सिंह की मौत का रहस्य बरक़रार है।
पिछले वर्ष 14 जून को अभिनेता सुशांतसिंह राजपूत का शव बांद्रा के घर में फांसी लगी अवस्था में मिलने के बाद खलबली मच गई थी।  मुंबई पुलिस ने सुशांत की मौत के दो दिन बाद उनके पिता और बहन का बयान लिया था।  पुलिस जांच में यह बात सामने आई कि सुशांत ने आत्महत्या की थी।  इस मामले में कई सेलिब्रिटी से पूछताछ की गई।  इसके बाद आरोप लगाया गया कि यह आत्महत्या नहीं बल्कि आत्महत्या है।  पुलिस पर सरकार के दबाव में काम करने का आरोप लगा।
सीबीआई दवारा मामले की जांच हाथ में लेने के बाद मुंबई पुलिस की जांच पॉज बटन पर है। मुंबई  पुलिस, बिहार पुलिस, ईडी, एनसीबी और सीबीआई इन पांच जांच एजेंसियों की जांच के बाद भी साल भर में सुशांत ने आत्महत्या की थी या उसकी हत्या हुई थी ? इसका रहस्य बरक़रार है।  फ़िलहाल यह मामला सीबीआई के पास है और उसकी जांच में क्या निकल कर सामने आता है इस पर सबकी नज़रें टिकी हुई है.
बिहार वर्सेज महाराष्ट्र 
मुंबई पुलिस की जांच ओर सवाल खड़े करते हुए सुशांत के परिवार वालों ने बिहार पुलिस का दरवाजा खटखटाया था।  सुशांत की महिला मित्र रिया चक्रवर्ती के खिलाफ केस दर्ज किया गया।  बिहार पुलिस ने मुंबई आकर जांच की।  इस मामले को राजनीतिक रंग दिया गया और यह मामला बिहार वर्सेज महाराष्ट्र के रूप में सामने आया।
मुंबई पुलिस के खिलाफ षड़यंत्र 
सुशांत की मौत को लेकर सोशल मीडिया पर मुंबई पुलिस के खिलाफ बदनामी का षड़यंत्र शुरू किये जाने की जानकारी साइबर पुलिस की जांच में सामने आई।  इसके लिए 80 हज़ार से अधिक फ़र्ज़ी अकाउंट मिले है।  इसके अनुसार साइबर पुलिस ने केस दर्ज करना शुरू किया।
You might also like

Comments are closed.