महाराष्ट्र : रश्मि शुक्ला सहित एक पुलिस सुप्रीटेंडेंट पर गंभीर आरोप, पुलिस में शिकायत दर्ज 

अमरावती, 22 जून : पद का  दुरूपयोग कर झूठे प्राथमिक जांच कराने, जांच अधिकारी पर दबाव डालने, निजी जीवन की गोपनीयता भंग करने सहित अन्य गंभीर स्वरूप का  काम राज्य गुप्तवार्ता विभाग की तत्कालीन कमिश्नर रश्मि शुक्ला व अमरावती पुलिस सुप्रीटेंडेंट डॉ. हरिबालाजी एन. ने किया।  इस तरह की शिकायत पुलिस आयुक्तालय में कार्यरत सीनियर शार्टहैंड राइटर ने गाडगेनगर पुलिस स्टेशन से की है।

शार्टहैंड राइटर का नाम देवानंद भोजे है।  उन्होंने 18 जून को यह शिकायत दर्ज कराई है। साथ ही संबंधित लोगों के खिलाफ क़ानूनी कार्रवाई की मांग की है।  इन दो अधिकारियों के साथ पुलिस सुप्रीटेंडेंट कार्यालय के शॉर्टहैंड राइटर व टाइपिस्ट जगदीश देशमुख, पुलिमकर्मी रुपेश पाटिल, किशोर शेंडे के साथ अन्य पांच कुल 11 लोगों के इस साजिश में शामिल होने का आरोप भोजे ने लगाया है।
पुलिस आयुक्तालय से जुड़ने से पहले भोजे पुलिस सुप्रीटेंडेंट कार्यालय में इसी पद पर कार्यरत थे।  उसी  यह घटना होने का  उन्होंने आरोप लगाया है।  उन्होंने आरोप लगाया है कि संबंधित अधिकारियों   ने गोपनीयता भंग किया, इंडियन टेलीग्राफ कानून का उल्लंघन किया, खुद की और परिवार की बदनामी की, नौकरी से निकाल देने की धमकी दी, फ़ोन टैपिंग की, शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप भोजे ने लगाया है।  भोजे दवारा गाडगेनगर में दर्ज कराई गई शिकायत 18 पन्नों में हैं।  इस मामले में पुलिस सुप्रीटेंडेंट डॉ. हरिबालाजी एन से संपर्क करने का प्रयास किया गया लेकिन उनके संपर्क नहीं हो पाया।
You might also like

Comments are closed.