महाराष्ट्र राजनीति : शिवसेना विधायक ने मुफ्त में पेट्रोल के लिए दिया नारायण राणे के पेट्रोल पंप का पता, लेकिन पड़ गया उल्टा!

मुंबई : ऑनलाइन टीम – राज्य में शिवसेना और बीजेपी के बीच खींचतान थमने का नाम नहीं ले रही है। राम मंदिर के मुद्दे पर मुंबई के शिवसेना भवन में बीजेपी द्वारा मोर्चा निकालने के बाद हुई रैली का उदाहरण तो वहीं शिवसेना ने बीजेपी को सत्ता से बेदखल करने की अनूठी पेशकश की है। आज शिवसेना की 55वीं वर्षगांठ है। इस मौके पर शिवसेना विधायक वैभव नाईक ने सस्ती दरों पर पेट्रोल बांटने का ऐलान किया था। वैभव नाईक ने आम जनता को 100 रुपये में 2 लीटर पेट्रोल और भाजपा सदस्यता कार्ड दिखाने वालों के लिए 1 लीटर पेट्रोल मुफ्त वितरण की घोषणा की थी। ऐसा ट्वीट वैभव नाईक ने किया है।

पेट्रोल का वितरण भाजपा के राज्यसभा सांसद नारायण राणे के स्वामित्व वाले पेट्रोल पंप पर होना था। इसलिए वैभव नाईक ने बीजेपी धोबी पछाड़ देने के लिए यह योजना बनाई थी। दरअसल पेट्रोल-डिजल की कीमतों में बढ़ोतरी पर भाजपा को घेरने के लिए वैभव नाईक ने यह योजना किया था। लेकिन अब उन्हें ही ये उल्टा पड़ गया। दरअसल भारत पेट्रोल पंप के व्यवस्थापक ने पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई है। जिसके बाद वैभव नाईक द्वारा आयोजित कार्यक्रम पूरा नहीं हो सका। हालांकि विधायक वैभव नाईक ने दूसरे पेट्रोल पंप पर सस्ते दर में पेट्रोल बांटे। इस बीच पेट्रोल पंप प्रबंधन अब थाने पहुंच गया है। पेट्रोल पंप मालिकों ने स्टैंड लिया है कि हम पेट्रोल-डीजल वितरण में कोई राजनीतिक जुनून नहीं रखना चाहते हैं। इसलिए वैभव नाइक का बीजेपी को हटाने का अनोखा आंदोलन अब उनके खिलाफ हो रहा है।

क्या कहा वैभव नाइक ने?

शिवसेना विधायक वैभव नाइक ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक पोस्टर ट्वीट किया जिसमें शिवसेना की 55वीं वर्षगांठ के अवसर पर सस्ती दरों पर पेट्रोल वितरण की घोषणा की गई। इसके अनुसार कहा गया कि आम नागरिकों को भारत पेट्रोल पंप कुडाल पर 100 रुपये में दो लीटर पेट्रोल (प्रति वाहन) दिया जाएगा और भाजपा सदस्यता कार्ड दिखाने वालों को एक लीटर पेट्रोल मुफ्त दिया जाएगा। वितरण आज सुबह 11 बजे से दोपहर 1 बजे तक होना था।

वैभव नाइक के परिवार के स्वामित्व वाली कणकवली, वागदे में एक पेट्रोल पंप है। लेकिन, वैभव नाइक कुडाळ-मालवण निर्वाचन क्षेत्र से विधायक हैं। जो नारायण राणे का निर्वाचन क्षेत्र है। वहां से वे नारायण राणे को हराकर पहली बार चुने गए। चूंकि नाइक का पेट्रोल पंप उनके निर्वाचन क्षेत्र में नहीं है, इसलिए वे इसे राजनीतिक उद्देश्यों के लिए उपयोग नहीं कर सकते। वह पेट्रोल पंप नारायण राणे के विधायक पुत्र नितेश राणे के निर्वाचन क्षेत्र में हैं। मालवन शहर में सिर्फ एक पेट्रोल पंप है, जिस पर भी राणे का मालिकाना हक है।

55 साल पहले आज ही के दिन बनी थी शिवसेना –

शिवसेना आज 55 साल की हो गई है। 19 जून 1966 को मशहूर कार्टूनिस्ट बाला साहेब ठाकरे ने अपनी राजनीतिक पार्टी का गठन किया था और वहीं से शिवसेना का जन्म हुआ। इस पार्टी की नींव मराठी लोगों के अधिकारों के संघर्ष के मुद्दे पर रखी गई थी। बाला साहेब ठाकरे कभी खुद चुनाव नहीं लड़े लेकिन आज उनके बेटे उद्धव ठाकरे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री हैं। इतना ही नहीं उनके पोते आदित्य ठाकरे भी महाराष्ट्र सरकार में कैबिनेट मिनिस्टर के तौर पर काम कर रहे हैं। कोरोना संक्रमण के चलते शिवसेना ने हर बार की तरह इस बार स्थापना दिवस धूमधाम से मनाने से परहेज किया है।

You might also like

Comments are closed.