महाराष्ट्र : मुंबई में दो डोज लेने वाले केवल 26 लोग कोरोना संक्रमित हुए 

मुंबई, 29 जून : कोरोना की दूसरी लहर का प्रसार अब पूरी तरह से नियंत्रण में आ गया है।  अब तक करीब 4 लाख मुम्बईवासियों को कोरोना हो चुका है।  इनमें कोविड वैक्सीन के दो डोज लेने के बाद भी कोरोना संक्रमित होने वालों की संख्या 26 है।  जबकि पहला डोज लेने के बाद 10 हज़ार 500 लोगों को कोरोना हुआ है।

मार्च 2020 से मुंबई में कोरोना संक्रमण शुरू हुआ था।  अब तक 7 लाख 20 हज़ार लोगों को कोरोना हो चुका है।  इनमें 95% मरीज ठीक हो चुके है।  कोविड 19 का वैक्सीन देने की शुरुआत 16 जून से शुरू की गई थी। इसी बीच कोरोना की दूसरी लहर ने घेर लिया।  इस अवधि  में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या हर दिन 10 हज़ार तक पहुंच गई थी।  लेकिन कई उपायों के बाद अब कोरोना के प्रसार पर मुंबई ने नियंत्रण पा लिया है।  इसके बावजूद कोरोना को पूरी तरह से खत्म करने के लिए मास्क का इस्तेमाल करने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने और बार-बार हाथ धोने की अपील मनपा प्रशासन ने की है।
फ़िलहाल मुंबई में मनपा, सरकारी और प्राइवेट हॉस्पिटल में 390 जगहों पर वेक्सीनेशन शुरू है।  इन जगहों पर एक दिन में डेढ़ लाख से अधिक वेक्सीनेशन की क्षमता है।
26 जून को एक दिन में मुंबई में सबसे अधिक एक लाख 54 हज़ार 228 डोज दिया गया।  ऐसे में आने वाले समय में अधिक से अधिक वेक्सीनेशन किया जाएगा।
मुंबई में अब तक 50 लाख लोगों को वैक्सीन दी जा चुकी है।  इनमे से 10 लाख लोगों को दूसरी डोज दी है है।
12 से 18 वर्ष के युवको के वेक्सीनेशन के लिए कुछ कंपनियों को आईसीएमआर को परमिशन के लिए पत्र भेजा है।  यह परमिशन मिलने पर छोटे बच्चों का वेक्सीनेशन का रास्ता साफ़ होगा।