Maharashtra Lockdown | महाराष्ट्र में फिर से लॉकडाउन ? स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा…

स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे

मुंबई (Mumbai News) : राज्य (Maharashtra Lockdown) में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में गिरावट आई है, इसके बावजूद खतरा अभी तक टला नहीं है। देश के कई हिस्सों में मरीजों की संख्या अभी भी स्थिर दिख रही है और कोरोनावायरस की संभावित तीसरी लहर की भविष्यवाणी की जा रही है। यह महीना गौरी-गणपति का है और त्योहारी सीजन के दौरान कोविड मरीजों (covid patients) की संख्या बढ़ने का डर सता रहा है, ऐसे में फिर से सख्त पाबंदियां लगाने या फिर लॉकडाउन (Maharashtra Lockdown) लगाने की बात हो रही है। इस पर राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे (Health Minister Rajesh Tope) ने अहम जानकारी दी है।

 

स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे (Rajesh Tope) ने कहा कि फिलहाल लॉकडाउन (Lockdown) का कोई मुद्दा नहीं है। हालांकि, हम पहले ही अधिसूचना में स्पष्ट कर चुके हैं कि जिस दिन 7,000 मीट्रिक टन ऑक्सीजन (Oxygen) की आवश्यकता होगी, उस दिन लॉकडाउन या सख्त प्रतिबंध (strict restrictions) लगाना पड़ेगा।

 

स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे की ओर से दी गई इस जानकारी की वजह से यह साफ हो गया है कि त्योहारी सीजन (festive season) के दौरान इस समय राज्य में कोई सख्त पाबंदियां (restrictions) या लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा।

 

उपमुख्यमंत्री द्वारा दिए गए महत्वपूर्ण निर्देश

 

राज्य के सभी स्कूलों के शिक्षकों और गैर-शिक्षण कर्मचारियों को टीके की दोनों खुराक पूरी करने के निर्देश दिए गए हैं, यह जानकारी उपमुख्यमंत्री अजित पवार (Ajit Pawar) ने दी है। इस बीच अजित पवार ने यह भी कहा कि जिस स्कूल (School) में उनका बच्चा जा रहा है, उसके शिक्षक को टीके की दोनों खुराक पूरी कर दी जाए तो माता-पिता को राहत मिलेगी।

 

राज्य में स्कूल शुरू करने पर अंतिम फैसला मुख्यमंत्री द्वारा टास्क फोर्स (Task Force) के साथ चर्चा कर लिया जाएगा। हालांकि केंद्र ने भीड़-भाड़ वाले त्योहारों को घरेलू तरीके से ही मनाने का निर्देश दिया है। कुछ राज्यों में स्कूल शुरू किए गए थे, लेकिन कुछ ही दिनों में छात्र कोविड पॉजिटिव मिलने लगे। तीसरी लहर में, केरल में सबसे अधिक मरीज हैं, उसके बाद महाराष्ट्र (Maharashtra) का नंबर आता है, इसलिए केंद्र सरकार (Central Government) के स्वास्थ्य विभाग (Health Department) ने राज्य को कुछ सुझाव दिए हैं, ऐसा अजित पवार ने स्पष्ट किया है।

 

 

School Reopen | अगले दो दिनों में स्कूल शुरू करने के बारे में लेंगे निर्णय, बच्चू कडू ने दी जानकारी

Maharashtra | महाराष्ट्र के मंदिर खोलें, आर्थिक संकट से घिरे पुरोहितों की मुख्यमंत्री से मांग

You might also like

Comments are closed.