Maharashtra | महाराष्ट्र के महाड में छज्जे से बाढ़ के पानी का अंदाज लेने में बैलेंस बिगड़ा ; महाड में बाढ़ में गई पहली जान 

रायगढ़, 22 जुलाई | (Maharashtra) मध्यरात्रि से हो रही बारिश की वजह से रायगढ़ जिले का जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। (Maharashtra) महाड शहर में मूसलाधार बारिश (Heavy rain) के कारण बढ़ जैसी स्थिति बन गई है।  महाड (Mahad) शहर में बाढ़ की स्थिति आते ही बाढ़ (Flood) में पहली जान चली गई हैं।  छज्जे से बाढ़ के पानी में गिरने की वजह से एक व्यक्ति की मौत होने की घटना सामने आई है।

महाड शहर के सावित्री नदी का पानी ओवरफ्लो होने की वजह से उससे सटे  कई क्षेत्रों में पानी जमा हो गया है।  इसी बाढ़ के पानी को छज्जे से देख रहे एक व्यक्ति का बैलेंस बिगड़ गया और वह बाढ़ के पानी में गिर गया।  महाड के रोहिदास नगर क्षेत्र की यह घटना है। बिल्डिंग के छज्जे से बाढ़ के पानी का अंदाज लेने के दौरान यह घटना घटी है।  व्यक्ति का महाड के प्राइवेट हॉस्पिटल में उपचार चल रहा था जहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई।
कोंकण के कई नदियों में पानी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।  रायगढ़ सहित चिपलुन, राजापुर जिले में बाढ़ की स्थिति पैदा हो गई है।  महाड के बाज़र में आठ से दस फ़ीट ऊपर तक पानी जमा हो गया है।  तटरक्षक दल की 2 टीमें महाड के लिए रवाना हो गई है।  कोलाड के महेश सानप की टीम महाड के लिए रवाना हुई है।  रायगढ़ में पिछले 24 घंटे में 165. 8 मिमी बारिश दर्ज की गई है। जबकि महाड में 207 मिमी बारिश दर्ज की गई है।
चिपलुन में हाहाकार 
चिपलुन शहर के कई जगहों पर बाढ़ का पानी भरने से 2005 जैसी स्थिति पैदा होने की आशंका पैदा हो गई है।  चिपलुन-कराड मार्ग के चिपलुन-मुंबई मार्ग की ट्रैफिक बंद कर दी गई है।

 

Nashik Accident News | दुखद! गाड़ी पर पेड़ गिरने से 3 शिक्षकों की मौके पर मौत, 12वीं के रिजल्ट की तैयारी में लगे थे

छुट्टी होने के बाद भी 12वीं का रिजल्ट (HSC result) तैयार करने के लिए गए शिक्षकों की गाड़ी पर पेड़ गिरने से गाड़ी में बैठे 3 शिक्षकों की मौत हो गई।  इस दुर्घटना (Nashik Accident News) में वणी-नासिक रोड (Wani-Nashik Road) पर वलखेड फाटा के पास फॉर्च्युन कम्पनी (Fortune Company) के सामने बुधवार शाम 5 बजे के आसपास हुई। ईर्टिका गाड़ी (MH 15 FN 09997) पर पेड़ गिर गया।

 

You might also like

Comments are closed.